कोलकाता के 35% लैक्टोज़ इन्टॉलरेंट परिवारों की पोषण ज़रूरतों को पूरा करने की पहल
सिर्फ पश्चिम बंगाल के लिए पेश किया गया यह पहला लैक्टोज़-रहित पैकेट दूध होगा, जिसका उद्देश्य दूध पचाने में परेशानियों का सामना कर रहे लोगों के लिए एक समाधान उपलब्ध कराना है

कोलकाता । आईटीसी लिमिटेड ने आज आशीर्वाद स्वस्ति ‘ईज़ी डायजेस्ट मिल्क’ के लॉन्च की घोषणा की, जो कि पश्चिम बंगाल में एक सुविधाजनक पाउच में मिलने वाला पहला लैक्टोज़-रहित दूध होगा। इस ख़ास पेशकश से ब्रांड कोलकाता के उपभोक्ताओं की पोषण-संबंधी ज़रूरतों को पूरा करना चाहता है। लैक्टोज़, दूध में मौजूद एक प्राकृतिक कार्बोहाइड्रेट है। मानव शरीर लैक्टोज़ को पचाने के लिए लैक्टेज़ एंज़ाइम बनाता है। लेकिन कुछ लोगों में यह एंज़ाइम नहीं बनता (या फिर पर्याप्त मात्रा में नहीं बन पाता)। इस कारण दूध पीने के बाद पेट दर्द, गैस, पेट फूलना, जी मिचलाने जैसी परेशानियां पैदा हो जाती हैं। यह स्थिति लैक्टोज़ इन्टॉलरेंस कहलाती है और किसी भी उम्र में हो सकती है।

आईटीसी लिमिटेड ने हाल ही में एक अग्रणी मार्केट रिसर्च संस्था के साथ मिलकर लैक्टोज़ इन्टॉलरेंस – कोलकाता इंसिडेंस, नामक एक सर्वेक्षण किया था, जिसका उद्देश्य दूध पीने की वजह से अपच की समस्या से जूझ रहे लोगों की समस्याओं को समझना था। सर्वेक्षण ने शहर की लैक्टोज़ इन्टॉलरेंट आबादी के मामलों का आंकलन किया और इस समस्या से जूझ रहे लोगों के जनसांख्यिकीय या डेमोग्राफ़िक प्रोफ़ाइल का एक गहन निरीक्षण प्रस्तुत किया। सर्वेक्षण के मुताबिक, कोलकाता के 35% परिवारों में लैक्टोज़ इन्टॉलरेंस की समस्या हो सकती है।

इस समस्या का समाधान पेश करने की पहल करते हुए, ब्रांड ने यह ख़ास उत्पाद पेश किया है। आशीर्वाद स्वस्ति ईज़ी डायजेस्ट मिल्क में लैक्टोज़ को आसानी से पचने वाले कार्बोहाइड्रेट्स में तब्दील किया जाता है, जिससे इसके पोषण और स्वाद से समझौता किए बग़ैर यह दूध लैक्टोज़-रहित बनता है। दूध अपच के बारे में जागरुकता बढ़ाने के लिए ब्रांड ने एक वॉट्सऐप-आधारित इंटरैक्टिव चैटबॉट भी लॉन्च किया है। वॉट्सऐप नंबर 810-583-5222 पर ‘EDM’ (ईडीएम) टाइप करके भेजने पर उपभोक्ता अपने लैक्टोज़ इन्टॉलरेंस का स्तर जान सकते हैं और इस समस्या के समाधान ढूंढ सकते हैं।

इस नए उत्पाद के लॉन्च पर टिप्पणी करते हुए श्री संजय सिंगल, चीफ़ ऑपरेटिंग ऑफ़िसर – डेयरी एंड बेवरेजेस, आईटीसी लिमिटेड, ने कहा, “दूध हमारे रोजाना के पोषण का एक अहम स्रोत है, ख़ासकर बच्चों के लिए। अगर बच्चे दूध नहीं पचा पाते, तो माता-पिता में यह चिंता होने लगती कि दूध का कम/सीमित सेवन उनके विकास पर असर डाल सकता है और इससे कैल्शियम एवं विटामिन सहित अन्य पोषक तत्वों की कमी हो सकती है। नए आशीर्वाद स्वस्ति ईज़ी डायजेस्ट मिल्क को पेश करने का फैसला ऐसे माता-पिता और दूध अपच की परेशानी से निजात चाहने वाले लोगों के लिए ही किया गया है, ताकि उनकी डेयरी उत्पादों की ज़रूरतों को पूरा किया जा सके।”

आशीर्वाद स्वस्ति ईज़ी डायजेस्ट मिल्क का 500 एमएल पाउच पैक 27 रुपये की किफ़ायती कीमत पर लॉन्च किया जा रहा है। शुरुआती ऑफ़र के तौर पर, अगले 45 दिनों तक उपभोक्ताओं को इस दूध का 500 एमएल पैक 26 रुपये में उपलब्ध होगा। इसके अलावा, इस दूध को आजमा कर देखने के लिए उपभोक्ताओं को प्रोत्साहित करने हेतु 12 रूपये कीमत वाला एक 200 एमएल का छोटा पैक भी उपलब्ध है। यह दूध पश्चिम बंगाल के 4000 से अधिक रिटेल स्टोर्स पर उपलब्ध होगा।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

4 × five =