बांग्लादेश के ढाका में इस्कॉन मंदिर पर 200 लोगों की भीड़ ने किया हमला, तोड़फोड़ भी की गई

ढाका। बांग्लादेश में एक बार हिंदू धार्मिक स्थल को निशाना बनाया गया है। यहां एक बार फिर से इस्कॉन मंदिर पर हमला हुआ है। ढाका के इस्कॉन राधाकांत मंदिर पर चरमपंथियों ने गुरुवार रात हमला किया। मंदिर पर हमले के साथ ही उसमें तोड़फोड़ भी की गई। इस दौरान मंदिर में लोगों से मारपीट की भी खबर है। हमले को लेकर इस्कॉन कोलकाता के उपाध्यक्ष राधारमण दास ने कहा कि ये हमले गंभीर चिंता का विषय हैं। हम बांग्लादेश सरकार से सख्त कार्रवाई करने और देश में हिंदू अल्पसंख्यकों को सुरक्षा प्रदान करने का अनुरोध करते हैं।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार यह हमला लाल मोहन साहा स्ट्रीट स्थित मंदिर पर हुआ। गुरुवार को शाम करीब 7 बजे 200 से अधिक लोगों ने मंदिर में जबरन घुसकर तोड़फोड़ की। बताया जा रहा है कि इस भीड़ की अगुवाई हाजी सैफुल्लाह ने की। मंदिर में तोड़फोड़ के साथ ही लूटपाट की भी खबर है। साथ ही मंदिर में मौजूद लोगों से मारपीट भी की गई। इस दौरान कई लोग घायल हो गए।

बांग्लादेश में यह पहली बार नहीं है जब चरमपंथियों ने हिंदू अल्पसंख्यकों को निशाना बनाया है। इससे पहले पिछले साल नवरात्रि के दौरान दुर्गा पूजा पंडालों पर भी हमले किए गए। साथ ही चरमपंथियों ने कई मंदिरों पर भी हमले किए थे। उस दौरान भी इस्कॉन मंदिर को भी निशाना बनाया गया था। इन हिंसा की वारदातों में 2 हिंदुओं समेत 7 लोगों की जान चली गई थी।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

four × two =