रोहित और पंत में होगा दिलचस्प मुकाबला

मुंबई। भारतीय कप्तान रोहित शर्मा और सीमित ओवरों के उपकप्तान ऋषभ पंत की टीमों क्रमशः मुंबई इंडियंस और दिल्ली कैपिटल्स के बीच रविवार को होने वाले टाटा आईपीएल मुकाबले में दिलचस्प भिड़ंत होगी। 2021 में गत चैंपियन के तौर पर उतरी मुंबई इंडियंस एक स्थान से प्लेऑफ़ में जगह बनाने से रह गई थी, जहां वह पांचवें स्थान पर रही थी। टीम ने टूर्नामेंट में बहुत अंत में जाकर वापसी का प्रयास किया लेकिन तब तक बहुत देर हो गई थी। दूसरी तरफ दिल्ली कैपिटल्स ने लीग दौर में 14 मैचों में 10 में जीत दर्ज की थी, लेकिन वह दोनों क्वालीफ़ायर्स नहीं जीत पाए थे और फ़ाइनल में जगह बनाने से चूक गए थे।

हाल ही में नीलामी में ख़रीदे गए खिलाड़ियों में से केवल जोफ़्रा आर्चर ही इस सीज़न में नहीं खेल पाएंगे। वहीं चोटिल सूर्यकुमार यादव के दिल्ली कैपिटल्स के ख़िलाफ़ पहले मुक़ाबले में खेलने की उम्मीद कम है। क्विंटन डिकॉक और पांड्या भाईयों के जाने से मुंबई की बल्लेबाज़ी में कमज़ोरी आई थी, लेकिन उन्होंने नीलामी में इस कमी को अच्छे से पूरा कर लिया। उनके शुरुआती तीन क्रम के बल्लेबाज़ रोहित शर्मा, इशान किशन और सूर्यकुमार यादव मज़बूत हैं, जबकि किशन तीसरे या चौथे नंबर पर भी उतारा जा सकता है, जहां अनमोलप्रीत से ओपनिंग कराई जा सकती है।

उन्होंने पिछले साल चेन्नई सुपर किंग्स के ख़िलाफ़ एक बार जरूर ओपनिंग की थी। इसी तरह नंबर पांच और नंबर छह पर फ़ीनिशर के रोल में उनके पास कीरोन पोलार्ड और टिम डेविड जैसे नाम हैं, इसके अलावा वह डेनियल सैम्स या फ़ेबियन ऐलेन में से किसी एक हरफ़नमौला को भी खिला सकते हैं। वहीं विदेशी खिलाड़ियों के विकल्पों में उनके पास “बेबी एबी” डेवाल्ड ब्रेविस भी हैं, जो हाल ही में समाप्त हुए अंडर 19 विश्व कप में प्लेयर ऑफ़ द टूर्नामेंट रहे थे, जहां पर उन्होंने मैदान के चारों ओर शॉट लगाते हुए 84.33 के औसत और 90.19 के स्ट्राइक रेट से रन बनाए थे।

उनके लिए एक ही सवाल यह है कि अगर सूर्यकुमार नंबर तीन पर बल्लेबाज़ी करेंगे तो नंबर चार पर कौन बल्लेबाज़ी करेगा। उनके पास युवा बल्लेबाज़ तिलक वर्मा का भी विकल्प है, जिन्होंने हैदराबाद के लिए घरेलू क्रिकेट में अच्छा किया है या वह अनमोलप्रीत के साथ भी जा सकते हैं। अगर कोई पहली पसंद का बल्लेबाज़ चोटिल या फ़ॉर्म से बाहर रहता है तो मुंबई के पास भारतीय बल्लेबाज़ों का भी कम विकल्प है।जसप्रीत बुमराह मुंबई के तेज़ गेंदबाज़ी आक्रमण का नेतृत्व करना जारी रखेंगे, लेकिन अब उनके साथ टाइमल मिल्स होंगे, जिससे अब मुंबई के पास अच्छा डेथ बॉलिंग आक्रमण है।

डेथ ओवरों से पहल पावरप्ले आता है और अब मुंबई की टीम में ट्रेंट बोल्ट नहीं हैं जो पहले छह ओवरों में टोन सेट करते थे। ऐसे में मुंबई को सोचना होगा कि वह पावरप्ले में किससे गेंदबाज़ी कराए। बुमराह आम तौर पर पावरप्ले में केवल एक ही ओवर करते हैं, ऐसे में मुंबई जयदेव उनादकट और सैम्स के साथ जा सकत है जिनका 2019 आईपीएल से 7.22 और 7.10 का बेहतरीन इकॉनमी रहा है।

मध्य ओवरों के लिए मुंबई इस बार भी अच्छे स्पिनर की कमी महसूस करेगी। मुरुगन अश्विन और मयंक मारकंडे उनके पास दो ही भारतीय स्पिनर हैं, वहीं ऐलेन एक हरफ़नमौला की तरह से टीम में हैं। मुंबई एक बड़े स्पिनर की कमी जरूर महसूस करेगी, क्योंकि टूर्नामेंट के दूसरे हाफ़ में गेंद ज़्यादा टर्न होना शुरू हो जाएगी, ऐसा इसीलिए क्योंकि इस बार यह टूनामेंट चार ही मैदानों पर खेला जाना है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

5 − 5 =