इंडिपेंडेंट रिसर्च एथिक्स सोसाइटी का 252वां आयुष समृद्धि वेबिनार एवं सेमिनार सम्पन्न

कोलकाता : इंडिपेंडेंट रिसर्च एथिक्स सोसाइटी ने शनिवार को अपना 252वां आयुष समृद्धि वेबिनार एवं सेमिनार मनाया। वेबिनार प्रतिदिन की भांति वेबेक्स और यूट्यूब में लाइव था तथा द सुजोरन होटल, साल्टलेक कोलकाता में सेमिनार का आयोजन किया गया। वहीं से मुख्य वक्तागण वेबीनार से जुड़े हुए थे। आज के कार्यक्रम का विषय था “स्कोप फॉर डेवलपमेंट फॉर CRO इन वेस्ट बंगाल” रिसर्च से जुड़ी इस वेबिनार में डॉ. परीक्षित देबनाथ, रिसर्च डायरेक्टर मेडफार्मा ने स्वागत भाषण दिया। डॉ. प.व्.व्. प्रसाद डायरेक्टर, CARI कोलकाता, मिनिस्ट्री ऑफ़ आयुष ने उद्घाटन किया।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डॉ. एस.के. बंदोपाध्याय भूतपूर्व डायरेक्टर, डिपार्टमेंट ऑफ़ हेल्थ एंड वेलफेयर बंगाल सरकार ने रिसर्च के स्कोप का बहुत ही अच्छा प्रस्ताव सबके सामने रखा। डॉ. पवन कुमार शर्मा, अध्यक्ष IRES ने अपने अध्यक्षीय भाषण में सोसाइटी के अब तक के कामों के बारे में और इसके भविष्य की रूपरेखा के बारे में सम्बोधन किया। डॉ. सांतनु मुंशी, प्रो. व हेड डिपार्टमेंट. ऑफ़ फार्माकोलॉजी, स्कूल ऑफ़ ट्रॉपिकल मेडिसिन, कोलकाता और डॉ. अचिन्त्य मित्र आयुर्वेदा रिसर्च साइंटिस्ट, कृस ने बहुत ही अच्छी बातें बताई। डॉ. जयेश ठक्कर प्रोग्राम के मॉडरेटर और सीओ-होस्ट साथ मे समदूर जी जांदू से और बाकि सभी सहयोगी टीम ने मिलकर कार्यकर्म का बहुत ही अच्छे ढंग से सफल संचालन किया।

कार्यक्रम में रिसर्च एक्सपर्ट्स कंपनियां और आमंत्रित अतिथियों का कोविड-19 के बाद यह पहला आमने सामने मिलन था। यह कार्यक्रम इंडिपेंडेंट रिसर्च एथिक्स सोसाइटी के यूट्यूब चैनल में भी लाइव रिकॉर्ड हुआ। डॉ. पवन शर्मा और टीम के नेतृत्व में आगे शुरु होने वाले अकादमिक और जनरल कोर्सेज इन आयुर्वेदा एंड हेल्थ सिस्टम का आने वाले दिनों में ऑफिसियल लांच होगा।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

1 × 4 =