IND vs NZ Test : भारत जीत से चूका, न्यूज़ीलैंड की आखिरी जोड़ी ने मैच कराया ड्रा

कानपुर। लेफ्ट आर्म स्पिनर रवींद्र जडेजा ( 40 रन पर चार विकेट) और ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ( 35 पर तीन विकेट) की कातिलाना गेंदबाजी की बदौलत न्यूजीलैंड के खिलाफ भारत की झोली में लगभग आ चुका पहला टेस्ट मैच सोमवार को कम रोशनी और आखिरी कीवी जोड़ी के संघर्ष के चलते हार जीत के फैसले के बिना ड्रा समाप्त हो गया। ग्रीनपार्क मैदान पर मैच के अंतिम दिन के पहले सत्र में भारतीय गेंदबाज को कोई सफलता नहीं मिली थी और मैच ड्रा की ओर खिसकता दिख रहा था मगर लंच और चायकाल के बीच मेजबान गेंदबाजों ने तीन अहम विकेट लेकर मैच को रोमांचक स्थिति में लाकर खड़ा कर दिया।

जबकि चायकाल के बाद अश्विन और जडेजा ने सूझबूझ भरी गेंदबाजी कर मैच को भारत के पक्ष में पूरी तरह मोड़ दिया मगर पदार्पण टेस्ट खेल रहे रचिन रवीन्द्र 91 गेंदो पर 18 रनो की नाबाद पारी और 11वें नम्बर के बल्लेबाज एजाज पटेल (2 नाबाद, 23 गेंद) का विकेट भारतीय गेंदबाज अंत तक उखाड़ नहीं सके और भारतीय टीम दहलीज पर खड़ी जीत से दूर हो गयी।

हमने जीतने की पूरी कोशिश की लेकिन वे बेहतर क्रिकेट खेले : रहाणे

भारतीय कप्तान अजिंक्या रहाणे ने पहला टेस्ट रोमांचक अंदाज में ड्रा समाप्त होने के बाद सोमवार को कहा कि हमने मैच जीतने के लिए पूरी कोशिश की, लेकिन उन्होंने बेहतर क्रिकेट खेला। रहाणे ने मैच के बाद ग्रीन पार्क में कहा,’जिस तरह आज हम दूसरे सत्र में वापस आए और विकेट चटकाये , वह बेहतरीन था। उमेश और इशांत दोनों ने बेहतरीन गेंदबाज़ी की और हमारे स्पिनर तो विश्व स्तरीय हैं हीं। अक्षर और साहा कल अच्छी बल्लेबाज़ी कर रहे थे, उससे पहले श्रेयस और अश्विन की साझेदारी भी महत्वपूर्ण थी। हम कल चार ओवर गेंदबाज़ी करना चाहते थे, जो हमने किया। श्रेयस के लिए मैं बहुत ख़ुश हूं। वह घरेलू क्रिकेट में लंबे समय से अच्छा कर रहे थे।’

मैच काफी शानदार रहा: विलियम्सन

न्यूज़ीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन ने भारत के खिलाफ पहला टेस्ट हार के कगार पर पहुंच जाने के बावजूद ड्रा हो जाने पर राहत की सांस लेते हुए कहा कि यह काफ़ी शानदार मैच रहा। विलियम्सन ने मैच के बाद कहा,’ अंत तक तीनों परिणाम संभव दिख रहे थे। हमने दिन भर बल्लेबाज़ी की और दृढ़ता दिखाई। यह रचिन, ऐजाज़ और समरविल के लिए बहुत अच्छा अनुभव रहा। यहां पर स्टेडियम में फैंस को आते देखना भी सुखद था। हमारे दोनों तेज़ गेंदबाज़ों ने बेहतरीन गेंदबाज़ी की। यह एक मजबूत भारतीय टीम है, इसलिए हमें हर विभाग में बेहतरीन प्रदर्शन करना था।’

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

seventeen + nine =