ओमिक्रॉन के बढते मामले को देखते हुए विदेशों से आने वालों पर पाबंदियां लगाएं केंद्र सरकार : ममता बनर्जी

कोलकाता : ममता बनर्जी ने ओमिक्रॉन के बढते मामले पर कहा कि “नागरिक उड्डयन मंत्रालय क्या करता है ये देखना होगा क्योंकि यूके से आने वाली फ्लाइट में कोरोना के ज़्यादा मामले देखे जा रहे हैं। केंद्र सरकार की ये ज़िम्मेदारी है कि जिन देशों से कोरोना के मामले ज़्यादा आ रहे है उसके मद्देनज़र पाबंदियां लगाएं।” ‘विदेशों से आ रहे लोगों के चलते बढ़ रहे हैं ओमिक्रॉन के मामले, पाबंदियां लगाएं सरकार’ बोलीं ममता बनर्जी। पश्चिम बंगाल के साथ-साथ में देश में कोरोना और कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के बढ़ते मामलों के बीच ममता बनर्जी ने कहा कि विदेशों से आ रहे लोगों के चलते ही देश में ओमिक्रॉन के मामले बढ़ रहे हैं। केंद्र सरकार विदेश से आने वाले विमानों पर पाबंदियां लगाएं। ममता बनर्जी गंगासागर के दो दिवसीय दौरे के बाद कोलकाता लौटते समय संवाददाताओं से बातचीत करते हुए ये बातें कही।

उल्लेखनीय है कि पश्चिम बंगाल में कोरोना के बढ़ते मामले के मद्देनजर केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव भारत भूषण ने पत्र लिखकर राज्य सरकार को सचेत किया और कोरोना संक्रमण बढ़ने से रोकने के लिए कदम उठाने की अपील की है। बता दें कि पिछले कई महीनों से संक्रमितों की संख्या 24 घंटे के दौरान 400 से 500 के बीच रह रही थी, लेकिन अचानक यह एक हजार के पार हो गई है। इसके अलावा एक्टिव मरीजों की संख्या में भी कमी हो रही थी लेकिन बुधवार को जारी हेल्थ बुलेटिन के मुताबिक 24 घंटे के दौरान एक्टिव मरीजों की संख्या में करीब पौने तीन सौ की बढ़ोतरी हुई है।

राज्य सरकार द्वारा विमान सेवा पर कई प्रतिबंध लगाने की उम्मीद है। ममता बनर्जी ने इसका संकेत दिया। ममता बनर्जी ने दावा किया कि विदेश से विमानों से आने वाले संक्रमण बढ़ा रहे हैं। उन्होंने कहा कि मैं व्यक्तिगत रूप से यूके से प्यार करती हूं, हालांकि, मैं देख रही हूं कि यूके की उड़ानों में ओमिक्रॉन वाहक अधिक आ रहे हैं। ओमिक्रॉन बहुत तेजी से फैल रहा है। जो लोग आ रहे हैं उनका एंटीजन टेस्ट किया जा सकता है, लेकिन रैपिड टेस्ट का परिणाम आने में काफी देर लगता है। हम किसी को परेशान नहीं करना चाहते, लेकिन इसे करोड़ों लोगों को ध्यान में रखकर करना होगा। हमें आरटीपीसीआर पर जोर देना होगा।”

क्रिसमस से लेकर नववर्ष तक राज्य सरकार द्वारा नाइट कर्फ्यू में दी गई ढील को वापस लेने की संभावना के बारे में पूछे गए सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि फिलहाल हालात की समीक्षा की जा रही है। लोगों से अनुरोध है कि वे जब भी घरों से बाहर निकलें तो मास्क पहनें और शारीरिक दूरी का पालन जरूर करें। ममता बनर्जी ने कहा कि उनकी सरकार तेजी से बढ़ती जा रही महामारी की स्थिति की गंभीरता की समीक्षा कर रही है। बनर्जी ने संकेत दिया कि अर्थव्यवस्था को ध्यान में रखते हुए नए सिरे से प्रतिबंध लगाने पर निर्णय जल्द लिया जाएगा। उन्होंने लोकल ट्रेनों के परिचालन को रोकने अथवा कम करने के बारे में भी जल्द निर्णय लेने की जानकारी दी है।

ममता बनर्जी ने कहा, “हम राज्य में हर जगह लॉकडाउन नहीं लगा सकते क्योंकि यह अर्थव्यवस्था को प्रभावित कर सकता है जैसा की महामारी की शुरुआत से होता रहा है। मुख्यमंत्री ने आगे कहा, “हम लोगों की सुरक्षा और स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए जल्द निर्णय लेंगे। राज्य सरकार उन जगहों को लक्षित कर रही है जहां मामले बढ़ रहे हैं। पिछले दो वर्षों में प्रतिबंधों की वजह से बड़े पैमाने पर अर्थव्यवस्था प्रभावित होती रहे हैं इसलिए हर जगह प्रतिबंध नहीं लगा सकते हैं।” इसके अलावा राज्य में महामारी के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए शिक्षण संस्थानों को खुला रखने की समीक्षा करने संबंधी एक दिन पहले के अपने बयान पर सफाई देते हुए ममता बनर्जी ने कहा, “मैंने कभी नहीं कहा कि स्कूल कॉलेज बंद करेंगे। फिलहाल कोई भी शिक्षण संस्थान बंद नहीं होगा केवल हालात की समीक्षा की जाएगी।”

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

two × 5 =