कोलकाता। आगामी लोकसभा चुनाव की तैयारियों में भारतीय जनता पार्टी अभी से जुट गई है। किस तरह से पश्चिम बंगाल में पार्टी को मजबूत किया जाए इसको लेकर गुरुवार को दिल्ली में पश्चिम बंगाल के भारतीय जनता पार्टी के नेता, राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के नेताओं ने मुलाकात की। हालांकि इस बैठक को सामान्य बैठक बताया गया है लेकिन इसमे बैठक के दौरान संघ और भाजपा के नेताओं के बीच एक साथ मिलकर बंगाल में काम करने को लेकर चर्चा हुई है, ताकि प्रदेश में पार्टी को मजबूत किया जा सके, संगठन को मजबूत किया जा सके। भाजपा अक्सर आरोप लगाती है कि पश्चिम बंगाल में टीएमसी उनके कार्यकर्ताओं पर अत्याचार करती है, उनके साथ हिंसा करती है।

पार्टी के सूत्र ने बताया कि प्रदेश में अब आरएसएस और भी सक्रिय होगी, वह भाजपा की और मदद करेगी ताकि पार्टी प्रदेश में बेहतर कर सके, प्रदेश में पार्टी भारतीय मजदूर संघ और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद को और भी मजबूत किया जाएगा। बंगाल में भाजपा ने मजदूर यूनियन के जरिए ही खुद को मजबूत किया है। कुछ ऐसा ही ममता बनर्जी ने भी किया था। भारतीय मजदूर संघ पहले से ही प्रदेश में सक्रिय है। हालांकि यह मुश्किल टास्क है लेकिन प्रदेश में बदलाव और विकल्प की तलाश में भाजपा जरूर सफल होगी।

भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भी पिछले हफ्ते पश्चिम बंगाल का दौरा किया था और इस दौरान उन्होंने सुकांता मजूमदार और पार्टी के अन्य नेताओं से मुलाकात की थी। मुलाकात के बाद मजूमदार ने कहा कि हमने कई मुद्दों पर चर्चा की। सूत्रों की मानें तो भाजपा ने फैसला लिया है कि वह अगली पीढ़ि को प्रशिक्षित करने में जुट गई है जो पार्टी के काम को प्रभावी तरीके से आगे लेकर जा सके। सूत्र ने बताया कि प्रदेश में पार्टी की मजबूत नींव खड़ी करने की यह शुरुआत है, आने वाले समय में पार्टी प्रदेश में और भी मजबूत होगी।

 

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

17 − three =