पटना।  बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने प्रदेश के सोलह जिले में आंधी एवं वज्रपात से हुई 33 लोगों की मौत पर गहरी शोक-संवेदना व्यक्त की है। कुमार आंधी एवं वज्रपात से भागलपुर में सात, मुजफ्फरपुर में छह, सारण और लखीसराय में तीन-तीन, मुंगेर और समस्तीपुर में दो-दो, जहानाबाद, खगड़िया, नालंदा, पूर्णिया, बांका, बेगूसराय, अररिया, जमुई, कटिहार और दरभंगा में एक-एक व्यक्ति की मौत से मर्माहत हैं। उन्होंने प्रभावित परिवारों के प्रति अपनी गहरी शोक-संवेदना व्यक्त की है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आपदा की इस घड़ी में वे प्रभावित परिवारों के साथ हैं। उन्होंने सभी मृतक के परिजनों को तत्काल चार-चार लाख रुपये अनुग्रह अनुदान देने के निर्देश दिये हैं।

कुमार ने आंधी एवं वज्रपात से हुयी गृह क्षति एवं फसल क्षति का आंकलन कराने का निर्देश देते हुए कहा कि गृह क्षति का आंकलन आपदा प्रबंधन विभाग एवं फसल क्षति का आंकलन कृषि विभाग अविलंब कराकर प्रभावित परिवारों को जल्द से जल्द सहायता राशि उपलब्ध कराये। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया है कि आंधी के कारण पेड़ गिरने से कहीं आवागमन बाधित हुआ है तो उसे तुरंत चालू करायें।मुख्यमंत्री ने लोगों से अपील की है कि सभी लोग खराब मौसम में पूरी सतर्कता बरतें। खराब मौसम होने पर वज्रपात से बचाव के लिये आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा समय-समय पर जारी किये गये सुझावों का अनुपालन करें। खराब मौसम में घरों में रहें और सुरक्षित रहें।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

15 + 17 =