अयोध्या । उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को राम मंदिर के गर्भगृह का शिलान्यास कर दिया। इससे पहले उन्होंने निमार्णाधीन राम मंदिर के गर्भगृह का शिला पूजन किया। इसके साथ ही कई वर्षों से तराशे जा रहे पत्थरों का इस्तेमाल शुरू हो गया। हनुमानगढ़ी में दर्शन-पूजन के बाद मुख्यमंत्री राम मंदिर निर्माण स्थल पहुंचे। उन्होंने वहां मंत्रोच्चार के बीच गर्भगृह की आधारशिला रखी। इसके साथ ही 29 मई से शुरू हुआ सर्वदेव अनुष्ठान का समापन हो गया है। गर्भगृह की आधारशिला रखने के बाद से वर्षो से तराशे गए पत्थरों का इस्तेमाल शुरू हो गया है।

मुख्यमंत्री की अगवानी करने उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य रामकथा पार्क पहुंचे। इस दौरान उन्होंने कहा कि देश के सर्वोच्च न्यायालय के फैसले के बाद श्रीराम जन्मभूमि मंदिर का निर्माण जारी है। पहले चरण का काम श्रीराम जन्मभूमि परिसर में पूरा हो गया है। आज दूसरे चरण का काम शुरू हो गया है।

उन्होंने कहा कि आज का दिन राम भक्तों के लिए खुशी का दिन है। हनुमान जी की कृपा से सब काम हो रहा है। उन्होंने कहा कि हम सौभाग्यशाली हैं कि मंदिर निर्माण का साक्षी बन रहे हैं। राम मंदिर आंदोलन के सिपाही के तौर पर मुझे भी मौका मिला है। श्रीराम जन्मभूमि के गर्भ गृह के पूजन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ राम मंदिर आंदोलन से जुड़े हुए मठ-मंदिरों के महंतों को भी निमंत्रित किया गया था। इसके साथ ही अयोध्या के कई विशिष्ट संत, महंत और जनप्रतिनिधि भी मौजूद रहे।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

six − two =