पटना। केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ विपक्ष को एकजुट करने की मुहिम में लगे बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि 2024 के लोकसभा चुनाव के बाद यदि हम लोगों को सरकार बनाने का मौका मिला तो बिहार ही नहीं देश के सभी पिछड़े रिपीट पिछड़े राज्यों को विशेष राज्य का दर्जा दिया जाएगा।कुमार ने गुरुवार को पत्रकारों से बातचीत के दौरान विशेष राज्य के दर्जे के संबंध में पूछे गए एक सवाल के जवाब में कहा कि वह बिहार को शुरू से ही विशेष राज्य दर्जा देने की मांग करते रहे हैं।

इस मांग को उन्होंने कभी छोड़ा नहीं है और वह इसकी निरंतर मांग करते रहे हैं। इसके लिए अभियान तक चलाया है और सरकार के स्तर से भी मांग की गई है।मुख्यमंत्री से जब यह पूछा गया कि विपक्ष का जो मोर्चा बनने जा रहा है जिसके लिए आप मुहिम चला रहे हैं उसकी यदि सरकार बनी तो क्या उसके एजेंडा में बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देना भी शामिल होगा।

इसपर उन्होंने कहा,” अगर इन लोगों (नरेंद्र मोदी सरकार) की जगह पर सरकार बनाने का मौका मिला और जैसा कि हम लोग चाह रहे हैं कि विपक्ष के ज्यादा से ज्यादा दल एकजुट होकर अगला लोकसभा चुनाव लड़े और सरकार बनी तो निश्चित रूप से बिहार ही नहीं अन्य पिछड़े राज्यों को भी वह सरकार विशेष राज्य का दर्जा क्यों नहीं देगी। कुमार ने कहा कि हम सिर्फ बिहार की बात नहीं कर रहे हैं, कुछ अन्य पिछड़े राज्यों की भी बात कर रहे हैं जिनको यह दर्जा मिलना चाहिए।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

sixteen − 4 =