किसान आंदोलन के समर्थन में अनशन, सरकार को लगाई लताड़

तारकेश कुमार ओझा, खड़गपुर : देश की राजधानी दिल्ली में पिछले २९ दिन से आंदोलन कर रहे किसानों के समर्थन में बुधवार को पूर्व मेदिनीपुर जिले के कांथी और तमलुक में प्रतीकात्मक अनशन किया गया । दोनों स्थानों पर बड़ी संख्या में किसान , महिला , छात्र व युवा इस आंदोलन में शामिल हुए। तमलुक धरना मंच से वक्तव्य रखने वालों में सोशलिस्ट यूनिटी सेंटर आफ इंडिया ( कम्युनिस्ट ) की पूर्व मेदिनीपुर जिला समिति की सचिव अनुरूपा दास , बंगीय प्राथमिक शिक्षक समिति के प्रदेश सचिव आनंद बरण हांडा तथा माध्यमिक शिक्षा व शिक्षा कर्मी फ्रंट के जिला संयोजक अब्दुल मसूद समेत विभिन्न संगठनों के प्रतिनिधि शामिल रहे । कृषक संगठन के जिला अध्यक्ष विवेक राय और सचिव जगदीश साहू ने कहा कि जब तक केंद्र सरकार कृषि कानून को वापस नहीं लेती ।

हमारा आंदोलन जारी रहेगा । अनुरूपा दास ने कहा कि हमारे देश में हर १२ मिनट पर एक किसान आत्महत्या करने को मजबूर है । वक्त आ गया है कि हम केंद्र की भाजपा सरकार का किसान समर्थक मुखौटा उतार फेंके । उन्होंने कार्यकर्ताओं से गली – मोहल्ला में जाकर लोगों को कृषि कानून के घातक प्रभाव के बारे में लोगों को समझाने की अपील की । प्रतीकात्मक अनशन के बाद तमलुक और कांथी दोनों शहरों में प्रदर्शनकारियों ने शहर परिक्रमा की ।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

2 × four =