चेयरमैन ने पेश किया लेखा-जोखा

उमेश तिवारी, हावड़ा । पिछले वर्ष की तुलना में मौजूदा ट्रेड लाइसेंस टैक्स से हावड़ा नगर निगम को 4 करोड़ 49 लाख रुपये से अधिक की आमदनी हुई है। बुधवार को पत्रकारों को संबोधित करते हुए प्रशासक मंडली के चेयरमैन डॉ. सुजय चक्रवर्ती ने कहा कि 1 अप्रैल से 15 मई 2022 तक निगम की खजाने में मात्र ट्रेड लाइसेंस कर से 4 करोड़ 72 लाख रुपये की आमदनी हुई है। उन्होंने बताया कि पिछले वर्ष 1अप्रैल से 15 मई 2021 के बीच मात्र 23 लाख रुपये की आय हुई थी। उन्होंने इतने अधिक मात्रा में रुपयों की आय के संबंध में बताया कि ऑन लाइन ट्रेड लाइसेंस इसका सबसे बड़ा माध्यम बना है।

ऑन लाइन के माध्यम से लोगों ने न सिर्फ ट्रेड लाइसेंस बनवाया बल्कि लाइसेंस का नवीनीकरण भी कराया। उन्होंने बताया कि अब लोग लाइसेंस का नवीनीकरण भी समय से करवा रहे हैं। उन्होंने इसके लिए हावड़ावासी को धन्यवाद दिया। डॉ. सुजय चक्रवर्ती ने कहा कि अब से ट्रेड लाइसेंस का नया नाम सर्टिफिकेट ऑफ इंलिस्मेंट होगा। एक समय था जब नया ट्रेड लाइसेंस के लिए कई-कई दिनों तक निगम का चक्कर लगाना पड़ता था लेकिन अब ऑन लाइन के माध्यम से मात्र 2-3 दिन ही समय लग रहा है। उन्होंने कहा कि ऑन लाइन प्रोसेस के कारण टैक्स भरने का काम का भी सरलीकरण हो गया है।

उल्लेखनीय है कि 31 जनवरी 2019 को हावड़ा नगर निगम के ऑनलाइन ट्रेड लाइसेंस सिस्टम व ऑनलाइन ग्रिवांस रेड्रेशल सिस्टम की शुरुआत शरत सदन में राज्य के सहकारिता मंत्री अरुप राय ने की थी। हालांकि उसके बाद कोरोना के कारण 2 साल तक ऑनलाइन परिसेवा में बाधा उत्पन्न होने के कारण उम्मीद से कम आय हुई थी लेकिन 2022 में हावड़ा नगर निगम के खजाने में मात्र 45 दिनों में सिर्फ ट्रेड लाइसेंस की आय से हुई वृद्धि को देखते हुए निगम में खुशी की लहर दौड़ गई है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

one × five =