कोरोना से लड़ने में असरदार हो सकती है होम्योपैथी दवा

फोटो साभार : गूगल

नयी दिल्ली : देश में होम्योपैथी चिकित्सा पद्धति के जाने-माने चिकित्सक पद्मश्री, डॉ. कल्याण बनर्जी का कहना है कि लाइलाज महामारी का रूप ले चुके कोरोनावायरस के संक्रमण से लड़ने में होम्योपैथी दवाएं असरदार साबित हो सकती हैं क्योंकि इन दवाओं से प्रतिरोधी क्षमता बढ़ती है। डॉ. कल्याण बनर्जी क्लिनिक की ओर से शुक्रवार को जारी एक बयान में उन्होंने कहा, होम्योपैथी मेडिसिन रोगनिरोधक क्षमता बढ़ाने में बहुत कारगर हैं और होम्योपैथी मेडिसिन में महामारी के खिलाफ रोगनिरोधक के तौर पर काम करने का एक लंबा इतिहास है।

उन्होंने कहा, होम्योपैथी मेडिसिन का उपयोग प्रथम विश्व युद्ध के बाद स्पेनिश फ्लू जैसे महामारी से निजात पाने के लिए किया गया था। मैरिनो नामक एक शोधकर्ता ने पाया कि स्वाइन फ्लू और डेंगू से लड़ने के लिए होम्योपैथी मेडिसिन असरदार साबित हुई है।

क्लीनिक से जुड़े डॉ. कुशाल बनर्जी ने कहा, डेंगू और स्वाइन फ्लू के कारण मल्टीपल ऑर्गन डिसफंक्शन सिंड्रोम (एमओडीएस) से इंसान के जीवन को खतरा रहता है, लेकिन होम्योपैथिक मेडिसिन से मरीजों की स्थिती में सुधार लाने में मदद मिलती है। हमने गंभीर एक्यूट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम (सार्स) के मामलों में भी इसी तरह के सकारात्मक प्रभाव पाया है। लिहाजा, कोविड -19 जैसे संक्रामक रोग से लड़ऩे में भी होम्योपैथिक सलाह कारगार हो सकती है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

1 × five =