जम्मू कश्मीर। कश्मीर में एक बार फिर से गुरुवार को हिन्दू सरकारी कर्मी पर घात लगाकर चरमपंथियों ने हमला किया है। कश्मीर ज़ोन पुलिस ने कहा है कि आतकंवादियो ने विजय कुमार नाम के बैंककर्मी पर खुली फायरिंग कर दी और बाद में अस्पताल में उनकी मौत हो गई है। घटना के बाद घाटी में डर का माहौल है। पूरे इलाक़े में खोजी अभियान जारी है। विजय कुमार राजस्थान में हनुमानगढ़ के रहने वाले थे। इससे पहले कश्मीर ज़ोन पुलिस ने कहा था कि कुलगाम ज़िले के अरेह मोहनपोरा स्थित इलाक़ाई देहाती बैंक के मैनेजर इस हमले में गंभीर रूप से ज़ख़्मी हो गए हैं।

बता दें कि हाल के दिनों में कश्मीर में हिन्दू सरकारी कर्मियों पर हमले बढ़े हैं। कश्मीर ज़ोन पुलिस ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से पहले ट्वीट में कहा था, ”आतंकवादियों ने कुलगाम ज़िले के अरेह मोहनपोरा स्थित इलाक़ाई देहाती बैंक के मैनेजर पर खुली फायरिंग कर दी। इस हमले में वह गंभीर रूप से ज़ख़्मी हो गए हैं. वह राजस्थान के हनुमानगढ़ के रहने वाले हैं. पूरे इलाक़े को सुरक्षाकर्मियों ने अपने घेरे में ले लिया है. अभी और जानकारी का इंतज़ार है।’

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने इस हत्या पर दुख जताया है और निंदा की है। उन्होंने ट्वीट किया, “विजय कुमार की टारगेट किलिंग के बारे में जानकर बहुत दुखी हूँ. इस हत्या की निंदा करता हूँ। परिवारों को इस तरह तबाह होते देख दिल दुखाने वाला है।” 31 मई को कुलगाम में ही रजनी देवी नाम की एक हिन्दू महिला शिक्षक को चरमपंथियों ने गोली मार हत्या कर दी थी। उन्हें चरमपंथियों ने हाई स्कूल गोपालपोरा में गोली मारी थी। यहीं वह शिक्षक थीं।

गोली लगने के बाद उन्हें ज़ख़्मी हालत में अस्पताल में भर्ती किया गया था लेकिन डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया था। इसी महीने एक राहुल भट्ट नाम के एक और कश्मीरी पंडित की चरमपंथियों ने हत्या कर दी थी।इसके अलावा तीन पुलिसकर्मियों की भी हत्या हुई थी। पाँच अगस्त 2019 को भारत सरकार ने जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा ख़त्म कर दिया था। इसके बाद से कश्मीरी पंडितों पर घात लगाकर हमले बढ़े हैं।

कश्मीर ज़ोन पुलिस के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर कहा था, ”आतंकवादियों ने कुलगाम के हाई स्कूल गोपालपोरा इलाक़े में खुली फायरिंग शुरू कर दी। इस आतंकवादी हमले में एक हिन्दू महिला शिक्षक ज़ख़्मी हो गईं लेकिन बाद में डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. वह जम्मू के सांबा की रहने वाली थीं।’

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने विजय कुमार की हत्या पर दुख जताते हुए लिखा है, ”जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में कार्यरत हनुमानगढ़, राजस्थान के निवासी श्री विजय कुमार की आतंकियों द्वारा हत्या घोर निंदनीय है। मैं ईश्वर से उनकी आत्मा की शांति एवं परिवार को हिम्मत देने की प्रार्थना करता हूँ।” गहलोत ने अपने दूसरे ट्वीट में कर कहा है, ”NDA सरकार कश्मीर में शांति बहाल करने में असफल रही है। केन्द्र सरकार कश्मीर में नागरिकों की सुरक्षा सुनिश्चित करे। हमारे नागरिकों की इस तरह आतंकियों द्वारा हत्या बर्दाश्त नहीं की जाएगी।”

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

10 + seventeen =