हिंदी साहित्य भारती की दो दिवसीय चिंतन बैठक संपन्न

डॉ. रविंद्र शुक्ल, दिल्ली : हिन्दी साहित्य भारती की प्रथम दो दिवसीय (27 एवं 28 नवम्बर 2021) चिन्तन बैठक हंसराज महाविद्यालय, दिल्ली मैं संपन्न हुई, बैठक अकल्पनीय और अविस्मरणीय रही। देश के सभी क्षेत्रों से मूर्धन्य विद्वान सदस्यों की उपस्थिति और उनके अवर्णनीय अद्भुत उत्साह ने सभी के मनों में संकल्प और समर्पण को गहराई तक उतार दिया। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय बौद्धिक प्रमुख मा स्वान्तरंजन जी का मार्गदर्शन, संगठन के सभी मनीषियों के मन में प्रेरणा का अतुलित संचार करने में समर्थ रहा।

केन्द्र सरकार के तीन विद्वान मंत्री परसोत्तम रूपाला, प्रो.सत्यपाल सिंह बघेल तथा अश्विनी कुमार चौबे के उद्बोधन ने हिंदी साहित्य भारती के एक-एक सदस्य के मन में लक्ष्य प्राप्ति की अदम्य ऊर्जा पैदा की। उल्लेखनीय है के देश के दो अग्रणीय चैनलों सुदर्शन न्यूज़ एवं साधना टीवी के अध्यक्ष क्रमशः सुरेश चव्हाण के एवं राकेश गुप्ता की गरिमामयी उपस्थिति और उद्वोधन भी प्राप्त हुआ। दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष तथा महात्मा हंसराज कॉलेज की प्राचार्य डॉ. रमा शर्मा तथा उनके सभी सहयोगियों की सक्रियता तथा आतिथ्य भाव ने सभी को अभिभूत कर दिया। कार्यक्रम की अवर्णनीय और आशातीत सफलता के लिए हिन्दी साहित्य भारती परिवार के सभी मनीषियों को साधुवाद।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

seven + 10 =