कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के आवासीय क्षेत्र कालीघाट इलाके में डेंगू से एक 12 साल के किशोर की मौत के बाद से सतर्क राज्य सरकार ने इससे बचाव के लिए उच्च स्तरीय बैठक बुलाई है। राज्य के मुख्य सचिव ने शुक्रवार अपराह्न सभी जिलाधिकारियों और जिला स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ निगम आयुक्त और अन्य संबंधित विभागों के पदाधिकारियों को बैठक में शामिल होने को कहा है।

सूत्रों के अनुसार गुरुवार को कालीघाट इलाके में विशाख मुखर्जी नाम के एक छात्र की मौत के बाद से मुख्य सचिव ने सभी जिलाधिकारियों को बैठक में शामिल होने का पत्र भेजा था। राज्य फिलहाल कोरोना वायरस से पूरी तरह से उबर नहीं पाया है। इस बीच शहर में डेंगू से हुई मौत ने स्वास्थ्य अधिकारियों के कान खड़े कर दिए हैं।

खास बात यह है कि ममता बनर्जी राज्य की मुख्यमंत्री होने के साथ स्वास्थ्य मंत्री भी हैं इसीलिए डेंगू को लेकर और अधिक समस्या ना बढ़े इस पर अधिकारियों का ध्यान विशेष तौर पर है। बैठक में इसी बात पर चर्चा होगी कि डेंगू से बचाव के लिए सभी रोकथाम मूलक प्रावधानों को अपनाते हुए आवश्यक कदम उठाए जाएं और अस्पतालों में संक्रमितों के इलाज की पुख्ता व्यवस्था हो।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

2 + 16 =