वल्लिअम्मा मुनुस्वामी मुदलियार की 108 वीं पुण्यतिथि पर दी गई भावपूर्ण श्रद्धांजलि

जोहानिसबर्ग। भारत के दूतावास जनरल, जोहानिसबर्ग, तमिल फेडरेशन ऑफ गौटेंग (Tamil Federation Of Gauteng) के साथ मिलकर 20 फरवरी 2022 को ब्रामफोन्टेइन कब्रिस्तान में वल्लिअम्मा मुनुस्वामी मुदलियार की 108वीं पुण्यतिथि पर उन्हें भावपूर्ण श्रद्धांजलि दी गई। वल्लियाम्मा एक युवा कार्यकर्ता थी, जिसने 1913 में दक्षिण अफ्रीका की औपनिवेशिक शक्तियों के बर्बर कानूनों के खिलाफ गांधी जी के निष्क्रिय प्रतिरोध के मार्ग पर चलते हुए 16 वर्ष की कम उम्र में अपना जीवन दिया। वालियाम्मा के परिवार, दोस्तों और भारतीय डायस्पोरा समुदाय के लगभग 40 लोगों ने स्मरण समारोह में भाग लिया।

इस अवसर पर, कौंसुल जनरल, सुश्री अंजु रंजन (Anju Ranjan) ने इस अवसर को याद करने की प्रासंगिकता के बारे में बात की। उन्होंने इन अनसंग नायकों और नायिकाओं के बलिदान को याद करने की आवश्यकता पर जोर दिया, जिनका जीवन निस्वार्थता और धार्मिकता का एक जीवंत गवाही है और होगा।कांसुलेट जनरल ऑफ इंडिया जोहान्सबर्ग ने स्मारक कार्यक्रम आयोजित करने के लिए तमिल फेडरेशन ऑफ गौटेंग का आभार व्यक्त किया है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

9 + 7 =