नहीं रहे हेलिकॉप्टर हादसे में जख़्मी ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह

नई दिल्ली। 8 दिसंबर को कुन्नूर में हेलिकॉप्टर हादसे में ज़ख़्मी हुए ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह भी बुधवार सुबह शहीद हो गए। भारतीय वायु सेना ने दुख ट्वीट कर इसकी सूचना दी। इस हादसे में भारत के पहले सीडीएस जनरल बिपिन रावत और उनकी पत्नी समेत कुल 13 लोगों की मौत मौक़े पर ही हो गई थी।भारतीय वायु सेना ने ट्वीट कर कहा, ”यह दुखद सूचना है कि ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह का आज सुबह निधन हो गया। इसी महीने आठ दिसंबर को वे हेलिकॉप्टर हादसे में ज़ख़्मी हुए थे। भारतीय वायुसेना उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करती है और इस मुश्किल वक़्त में उनके परिवार के साथ खड़ी है।”

8 दिसबंर को वायु सेना का हेलिकॉप्टर Mi-17V5 जब दुर्घटनाग्रस्त हुआ तो इसमें देश के पहले चीफ़ ऑफ डिफेंस स्टाफ़ जनरल बिपिन रावत और उनकी पत्नी समेत कुल 14 लोग सवार थे। इनमें से 13 लोगों की मौत मौक़े पर ही हो गई थी लेकिन ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह जीवित थे। हालांकि वरुण की स्थिति भी नाजुक बनी हुई थी। 10 दिसंबर को उन्हें तमिलनाडु में वेलिंगटन के सैन्य अस्पताल से एयरलिफ़्ट कर बेंगलुरु लाया गया था। गुरुवार को वरुण सिंह को एम्बुलेंस से कुन्नूर से कोयंबटूर लाया गया था और वहाँ से एयरलिफ़्ट कर बेंगलुरु के कमांड अस्पताल में भर्ती किया गया था।

ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह की मौत पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुख जताते हुए ट्विटर पर लिखा है, ”ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह ने गर्व, निर्भिक और बेहतरीन प्रोफ़ेशनल की तरह देश की सेवा की। उनकी मौत से मैं बहुत ही दुख हूँ। उन्होंने देश के लिए जो किया है, उसे कभी भुला नहीं जाएगा। उनके परिवार और दोस्तों के प्रति मेरी संवेदना है। ओम शांति।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

fifteen + 14 =