महिला दिवस पर महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने में जुटा वृहतर माहेश्वरी महिला संगठन

3 स्थानों पर 10-10 सिलाई मशीनें लगवाकर प्रशिक्षण केन्द्र किया शुरू

कोलकाता। अखिल भारतवर्षीय माहेश्वरी महिला संगठन महिला अधिकार उत्थान सुरक्षा एवं सशक्तिकरण समिति द्वारा लिए गए प्रोजेक्ट स्वाश्रिता के अंतर्गत इस अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस यानी 8 मार्च 2022 से भारत भर में 16 सेंटर चालू किए जा रहे हैं जहां पर सिलाई का प्रशिक्षण बहुत ही सामान्य शुल्क पर प्राप्त किया जा सकता है यही नहीं सिंगर इंडिया के साथ हुए एमओयू अनुसार इन सेंटर में सीखने वाले विद्यार्थियों को लगभग आधे दाम पर सिंगर की सिलाई मशीनें प्राप्त करवाई जा सकेंगी।

इसी के साथ-साथ अपने श्रंखलाबद्ध संगठन के माध्यम से भारत और नेपाल भर में लगभग 517 मशीनों को विभिन्न स्थानों पर महिलाओं को देकर स्वावलंबी बनाने का प्रयास कर रहा है। अखिल भारतवर्षीय माहेश्वरी महिला संगठन अध्यक्ष श्रीमती आशा जी माहेश्वरी (कोटा), श्रीमती महामंत्री जी मंजू बांगड़ (कानपुर) के नेतृत्व में 8 मार्च को एक वृहत कार्यक्रम के द्वारा सिलाई मशीन के सबसे बड़े वितरण का कार्य संपन्न कर रहा है।

कार्यक्रम का संयोजन प्रकल्प प्रमुख के रूप में श्रीमती गिरिजा सारडा जी (नेपाल) अपनी टीम महिला सशक्तिकरण समिति प्रभारी श्रीमती उषा जी मोहंता (रायपुर), आंचलिक सह प्रभारी श्रीमती कंचन जी राठी (भिवानी मंडी), श्रीमती स्वाति जी काबरा (मुंबई), श्रीमती रश्मि जी बिन्नानी (कोलकाता), श्रीमती राजश्री जी मोहता (दिल्ली) एवं श्रीमती प्रतिभा जी नथानी (रायपुर) के साथ मिलकर कर रही है। पूरी टीम का कार्यक्रम को सफल बनाने में महत्वपूर्ण योगदान रहा।

महिला संगठन की कोषाध्यक्ष श्रीमती ज्योति जी राठी ने बताया की मशीनें कम से कम कीमत पर उपलब्ध कराने के लिए सिंगर के साथ एक एमओयू साइन किया गया है। संगठन मंत्री श्रीमती जी शैला कलंत्री एवं कार्यालय मंत्री श्रीमती मधु जी बाहेती द्वारा पूरे राष्ट्रीय संगठन की विभिन्न शाखाओं को जोड़कर काम किए जाने के लिए रुपए 50 से लेकर 50 महीनों तक के सहयोग की बात बताई गई।

माहेश्वरी समाज में दान देने का अलग ही महत्व है और इसी महत्व को सर्वोपरि मानते हुए ज्ञानदान के कार्यक्रम में महिलाओं को स्वाश्रिता (स्व आश्रिता) बनाने के लिए संगठन की तरफ से कई स्थानों पर भी सेंटर खोले जा रहे हैं। इन 16 सेंटर में से वृहतर कोलकाता प्रादेशिक माहेश्वरी महिला संगठन द्वारा प्रत्येक केंद्र में 10 मशीनों से 3 सेंटर खोलने जा रही है और साथ ही साथ 12 मशीनें ज़रूरतमंद महिलाओं को दी जा रही है। इन केंद्रों में महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए ग्रामीण महिलाओं और ड्राप आउट युवतियों को सिलाई सिखायी जाएगी।

इस क्रम में 6 मार्च को कल्याणी में प्रथम केन्द्र B – 7/287, कल्याणी, जिला नदिया, कल्याणी, पश्चिम बंगाल में उद्घाटन किया जाएगा।

द्वितीय केन्द्र 7 मार्च को फ़ोर्ट ग्लोस्टर विद्यालय पोस्ट- राधानगर, बाऊडिया, हावड़ा -711310 में उद्घाटन किया जाएगा।

तृतीय केन्द्र- 8 मार्च को माहेश्वरी भवन 30/A/2 डा. पीटी लाहा स्ट्रीट,
रिसडा, डिस्ट्रिक्ट -हुगली में उद्घाटन किया जाएगा।

मौके पर मुख्य अतिथि के रूप में ताज़ा TV डायरेक्टर श्रीमती अमृता जी नेवर, अवकाश प्राप्त आईजी आईपीएस अधिकारी बी.के.तालुकदार, पार्षद श्रीमती मीना जी पुरोहित, प्रशासक नगरपालिका-रिसडा विजय सागर मिश्रा, राष्ट्रीय पूर्व अध्यक्ष श्रीमती शोभा जी सादानी, पूर्वांचल राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्रीमती मंजु जी कोठारी, कोलकाता प्रदेश सभा अध्यक्ष विनोद जाजु, बोर्ड सदस्य माहेश्वरी पत्रिका नागपुर, विनोद कुमार साव फ़ोर्ट ग्लोस्टर विद्यालय अध्यापक, संगठन की अध्यक्ष श्रीमती निर्मला जी मल्ल सहित विशिष्ठ अतिथि शामिल होंगे।

फ़ोर्ट ग्लोस्टर विद्यालय बाऊडिया में आयोजक संस्था माहेश्वरी महिला संगठन हावड़ा, कल्याणी जिला नदिया सेंटर की आयोजक संस्था पूर्व कोलकाता अंचल एवं माहेश्वरी भवन रिसडा सेंटर में आयोजक संस्था कोलकाता प्रदेश हैं। इसके अतिरिक्त पूर्व कोलकाता अंचल द्वारा 5 मशीन, मध्य कलकत्ता द्वारा 4 मशीन एवं 3 मशीन कोलकाता प्रदेश द्वारा ज़रूरतमंद महिलाओं को दी जाएगी।

इस सेवा कार्य में अध्यक्ष शशि नागोरी एंव टीम (हावड़ा अंचल), अध्यक्ष लक्ष्मी जी मुंदडा एंव टीम (पूर्व कोलकाता) सुशीला जी बागडी एवं टीम (मध्य कोलकाता) पुष्पा जी केला एवं टीम (दक्षिण कोलकाता) मीरा जी कोठारी, मंजु जी पेडीवाल एंव टीम (रिसडा अंचल), निर्मला जी मल्ल, रश्मि जी बिनानी, कुसुम जी मुंदडा, मीना जी राठी, पारुल जी साबू, भगवती जी बागड़ी, अर्चना जी मुंदड़ा, कंचन जी भट्टर, मंजु जी मिमानी का सहयोग रहा। पूरे भारत वर्ष में 525 मशीन का वितरण करके सभी की एकजुटता व कर्मठ सहयोग से हम स्वाश्रिता के माध्यम से द्वादश सत्र में ही चौथा गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने जा रहे हैं। इसकी जानकारी प्रदेश अध्यक्ष निर्मला जी मल्ल द्वारा दी गई।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

fifteen + 18 =