वैश्विक शिक्षण संस्थानों ने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में अग्रणी रहे एडमस विश्वविद्यालय की सराहना की

कोलकाता : एडमस विश्वविद्यालय के चांसलर प्रो. समीत रे को हाल ही में कोविड-19 के प्रति उनके असाधारण और समय पर योगदान के लिए कई प्रमुख प्रतिष्ठित शिक्षा संगठनों ने सराहना की। लोमोनोसोव मॉस्को स्टेट यूनिवर्सिटी (रूस), विटस बेरिंग कमचटका स्टेट यूनिवर्सिटी (रूस), बाथ स्पा यूनिवर्सिटी (यूके), पेट्रा क्रिश्चियन यूनिवर्सिटी (इंडोनेशिया), जेनोवा यूनिवर्सिटी (इटली), नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ फार्मेसी (यूक्रेन),

नेशनल इकोनॉमिक यूनिवर्सिटी (यूक्रेन), डैफोडिल इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी (बांग्लादेश), राउज़्ज़ो यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी (पोलैंड), मंगोलियाई नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ़ एजुकेशन, यूरोपियन यूनियन के ह्यूमन राइट्स विदाउट फ्रंटियर्स इंटल (बेल्जियम) जैसे शैक्षिक संस्थान और संगठन ने महामारी के दौर में मानवता को तवज्जों देने हेतु प्रो. समित रे के कार्य को असाधारण बताया।

एडमस विश्वविद्यालय ने महामारी का डटकर सामना किया। रिपोर्ट में बताया गया है कि इस संकट के दौरान विश्वविद्यालय ने अपने शिक्षण, शिक्षण, मूल्यांकन गतिविधियों को कैसे जल्दी और मौलिक रूप से बदल दिया है। यह भी दर्शाता है कि कैसे विश्वविद्यालय ने छात्रों की सुरक्षा को प्राथमिकता दी और 15 मार्च 2020 के बाद से परिसर को जल्द से जल्द बंद करने का फैसला किया।

इसके अलावा मुख्यमंत्री राहत कोष को 10 लाख रुपये दान भी दिये। इसके अतिरिक्त विश्वविद्यालय ने अपने परिसर को एक गैर-चिकित्सा विश्वविद्यालय होने के बावजूद डॉक्टरों और स्वास्थ्य पेशेवरों के लिए क्वार्टर के साथ-साथ पृथक व्यक्तियों के लिए अधिकतम 1000 बेड के साथ संगरोध केंद्र के रूप में उपयोग करने की पेशकश की थी।

 

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

twenty − 8 =