आईटीआई में छात्रों को नई तकनीक का प्रशिक्षण दें : नीतीश

फोटो, साभार : गूगल

पटना : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गुरुवार को अधिकारियों को निर्देश दिया कि आईटीआई में छात्रों को नई तकनीक का प्रशिक्षण दें। छात्रों को ऑनलाइन के साथ-साथ शारीरिक प्रशिक्षण की व्यवस्था भी की जाय। सीएम नीतीश ने कहा कि नई तकनीक के सीखने से युवाओं को बेहतर रोजगार उपलब्ध होगा। मुख्यमंत्री के समक्ष श्रम संसाधन विभाग ने आईटीआई में सेंटर ऑफ एक्सीलेंस स्थापित करने को लेकर प्रस्तुतीकरण दिया। इस दौरान बताया गया कि राज्य के सभी 149 आईटीआई में टाटा तकनीकि द्वारा सेंटर ऑफ एक्सीलेन्स स्थापित किया जाएगा। बैठक में मुख्यमंत्री ने निर्देश देते हुए कहा कि सभी आईटीआई संस्थानो में ऑनलाइन प्रशिक्षण के साथ-साथ शारीरिक प्रशिक्षण भी कराएं। जिस आईटीआई भवन का निर्माण अभी पूर्ण नहीं हुआ है उसे जल्द पूर्ण करें और उनमें संस्थान को शिफ्ट करें।

जरुरत के मुताबिक ट्रेनरों की संख्या भी बढ़ायी जाए। उहोंने कहा कि नई तकनीक सीखने से छात्रों को बेहतर रोजगार मिल सकेगा। इस मौके पर श्रम संसाधन विभाग के मंत्री जिवेश कुमार मिश्रा ने बताया कि सरकार इंडस्ट्री 4.0 के तहत प्रथम चरण में राज्य के 6 आईटीआई को उन्नत बनाने का कार्य मार्च 2022 तक पूरा कर लेगी। प्रत्येक वर्ष इसमें 15 हजार बच्चों को प्रशिक्षण दिया जा सकेगा। राज्य के युवा अपने कौशल का विकास कर अपने लिए रोजगार और स्वरोजगार देश-विदेश में आसानी से प्राप्त कर सकेंगे। इसे ध्यान में रखते हुए प्रदेश के युवाओं को विश्वस्तरीय सुविधा दिए जाने के लिए कौशल विकास केंद्र का आधुनिकीकरण किया जा रहा है। बैठक में श्रम संसाधन विभाग के प्रधान सचिव मिहिर कुमार सिंह ने बताया कि बिहार कें आईटीआई को उद्योग के बदलते परिवेश को देखते हुए नई तकनीक सै लैस किया जायेगा।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

9 − three =