उमेश तिवारी, हावड़ा । स्कूल प्रशासन की लापरवाही का नतीजा एक छात्रा को उस वक्त भुगतना पड़ा जब उसने पानी पीने की लिए पानी की मशीन को छू लिया। मशीन को छूते ही उसे बिजली का तेज झटका लगा और वह गिर पड़ी। वह वहीं गिरी पड़ी रहती अगर स्कूल की एक महिला कर्मचारी गीता सिंह की नजर उसपर नहीं पड़ती। घटना घटी है डोमजूर थाना अन्तर्गत बांकड़ा मिश्रपाड़ा माध्यमिक स्कूल में। गंभीर रूप से घायल छात्रा का नाम परवीना खातून (9) है।IMG_20220718_155603

उसे हावड़ा जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पता चला है कि सोमवार दोपहर करीब 12 से साढ़े 12 बजे स्कूल में रखी ठंडे पेयजल मशीन से पानी पीने की कोशिश कर रही थी चौथी कक्षा की छात्रा परवीना खातून। लेकिन उसने जैसे ही मशीन को छूआ उसे करंट लग गई। करंट लगते ही वह चीखी। स्कूल के ग्रुप डी की कर्मचारी गीता सिंह ने यह देखा। उसके शोर मचाने पर अन्य शिक्षक व कर्मचारी आए और तत्काल ठंडे पेयजल मशीन की बिजली काट दी। छात्रा को तुरंत स्थानीय निजी अस्पताल और बाद में हावड़ा जिला अस्पताल ले जाया गया। फिलहाल छात्र का वहां इलाज चल रहा है।

घटना की खबर फैलते ही अन्य अभिभावक स्कूल पहुंचे। उन्होंने लापरवाही के लिए स्कूल अधिकारियों के खिलाफ व्यावहारिक रूप से विरोध करना शुरू कर दिया। घटना की खबर मिलते ही स्थानीय बांकड़ा थाने की पुलिस भी मौके पर पहुंची। पूरी घटना के चलते स्कूल को एक दिन के लिए बंद कर दिया गया है। महिला कर्मचारियों ने ठंडे पेयजल की मशीन को पूरी तरह से एक रस्सी से घेर दिया। हालांकि ड्रिंकिंग वाटर मशीन के मेंटेनेंस को लेकर भी सवाल उठने लगे हैं।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

seven + twelve =