खड़गपुर में लगा शब्दकर्मियों का जमावड़ा

पूरे दिन चला जिला साहित्य अकादमी का कार्यक्रम

तारकेश कुमार ओझा, खड़गपुर । पश्चिम मेदिनीपुर जिला अंतर्गत रेलशहर खड़गपुर में शनिवार को साहित्य प्रेमियों का अभूतपूर्व जुटान देखने को मिला। जिला साहित्य अकादमी के दिनव्यापी कार्यक्रम में पुस्तक प्रकाशन, मेधावी समारोह साहित्य पर चर्चा और कवियों द्वारा स्वयं लिखित कविताओं का पाठ आदि किया गया। शहर के गोलबाजार स्थित श्रीराम मंदिर के सभागार में मेदिनीपुर जिला साहित्य अकादेमी का “साहित्य उत्सव 22” बहुत ही सुव्यवस्थित वातावरण में आयोजित व संपन्न हुआ। समारोह में कविता पाठ, संगोष्ठी तथा फोटोग्राफी सरीखे विषयों पर कई ज्ञानवर्द्धक कार्यक्रम आयोजित किए गए।

समारोह में उपस्थित मुख्य साहित्यकारों व साहित्य प्रेमियों में भावेश बसु, सुनील माझी, देवव्रत भट्टाचार्य, तापस मुखर्जी, श्यामल दे, विश्वजीत भौमिक, विद्युत पाल तथा अबुल माजन आदि शामिल रहे। माना गया कि अरसे बाद शहर में इतने व्यापक रूप में कोई साहित्यिक आयोजन हुआ। अपने संबोधन में वक्ताओं ने कहा कि मानव मन की साहित्यक तृष्णा कभी कम नहीं हो सकती। आवश्यकता है तो बस पाठक मन को समझ कर उसके अनुरूप साहित्यिक सृजन की। आज के दौर में समय और पाठक के रुझान को समझने वाला शब्दकर्मी ही सफल हो सकता है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

8 − 6 =