लॉकडाउन से थमी जनजीवन की रफ्तार, सार्वजनिक स्थलों पर पसरा सन्नाटा

प्रतीकात्मक फोटो, साभार : गूगल

कोलकाता : कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों को रोकने के मकसद से राज्य भर में लगाए गए पूर्ण लॉकडाउन के चलते बंगाल में जनजीवन की रफ्तार थम सी गई। संक्रमण की कड़ी तोड़ने के लिए बंगाल में सप्ताह में दो दिन बंद के नियम के मद्देनजर बुधवार को सार्वजनिक स्थलों पर सन्नाटा पसरा हुआ है। राज्य में परिवहन के सभी सार्वजनिक साधन, सरकारी और निजी कार्यालय, बैंक और कारोबारी प्रतिष्ठान बंद हैं। सिर्फ अनिवार्य सेवा जारी हैं।

फोटो, साभार : गूगल

कोलकाता अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर आने वाली और यहां से जाने वाली उड़ानों का परिचालन भी बंद है। लंबी दूरी वाली ट्रेनों के परिचालन की तारीखें भी बंद की वजह से बदल दी गई हैं। बंद के बीच दवा दुकानें और अस्पताल, नर्सिंग होम खुले हैं। इन्हें बंद के दायरे से बाहर रखा गया है। राज्य में पेट्रोल पंप भी खुले हैं।

राज्य में पुलिसकर्मी शहर के व्यस्त चौराहों पर गश्त करते हुए दिखे। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को कहा था कि सप्ताह में दो दिन बंद का निर्णय राज्य में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को रोकने के लिए विशेषज्ञों की सलाह के बाद लिया गया है। राज्य में कोविड-19 की वजह से मरने वालों की संख्या 1,449 है और कुल संक्रमित लोगों की संख्या 62,964 है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

15 − 3 =