कोलकाता । बीरभूम में हिंसा के बाद स्थानीय लोग अपने घरों को छोड़कर दूसरे स्थानों पर जाने को मजबूर हो गए हैं। हिंसा की पीड़ित एक महिला का कहना है कि ‘सुरक्षा के मद्देनज़र हम घरों को छोड़कर जा रहे है। पुलिस ने किसी भी तरह की सुरक्षा नहीं दी, सुरक्षा होती तो ये घटना नहीं घटती।इस बीच फोरेंसिक टीमें बीरभूम पहुंच चुकी है। केंद्रीय मंत्री नकवी ने ममता सरकार पर सवाल उठाया और कहा कि- देशद्रोही ताकतों के सामने प्रशासन असहाय है।

उल्लेखनीय है कि बंगाल के बीरभूम जिले के रामपुरहाट में सोमवार देर रात बम फेंककर पंचायत नेता भादू शेख की हत्या कर दी गई थी। तृणमुल नेता भादू शेख की हत्या के बाद सोमवार देर रात हिंसा भड़क गई थी। इस हिंसा में कई लोगों की जान चली गई। यहां भीड़ ने 10-12 घरों के दरवाजे को बंद कर आग लगा दी। इस आग की चपेट में आकर अब तक 8 लोगों की मौत हो चुकी है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। बुधवार को राज्य फोरेंसिक विज्ञान प्रयोगशाला (SFSL) और SIT की एक टीम बीरभूम के रामपुरहाट पहुंची है और जांच कर रही है।

वहीं इस मामले में क्रेंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने पश्चिम बंगाल की ममता सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि ‘पश्चिम बंगाल की संवैधानिक व्यवस्था को गुडें-मवालियों और देशद्रोही ताकतों ने बंधक बना लिया है। जिस तरह से यह लोग पश्चिम बंगाल में आम लोगों का खून बहा रहे हैं यह साबित है कि वहां की सरकार ऐसे लोगों के सामने असहाय हो चुकी है।’

बीरभूम में हिंसा के बाद स्थानीय लोग अपने घरों को छोड़कर दूसरे स्थानों पर जाने को मजबूर हो गए हैं। हिंसा की पीड़ित महिला का कहना है कि ‘सुरक्षा के मद्देनज़र हम घरों को छोड़कर जा रहे है। जिनकी मृत्यु हुई उनमें से एक मेरा देवर भी था। पुलिस ने किसी भी तरह की सुरक्षा नहीं दी, सुरक्षा होती तो ये घटना न घटती।’
राष्ट्रीय महिला आयोग (NCW) ने बीरभूम की घटना का संज्ञान लिया है. महिला आयोग ने पत्र लिखकर DGP पश्चिम बंगाल और SP बीरभूम को दोषियों को गिरफ्तार करने और उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है। साथ ही 24 घंटे के भीतर आयोग को मामले में की गई कार्रवाई से अवगत कराने के लिए भी पत्र में लिखा है।

भाजपा नेता अर्जुन सिंह ने कहा ये हिंसा पश्चिम बंगाल में कानून-व्यवस्था की विफलता को दिखाता है। उन्होंने कहा बेगुनाह लोगों को मारा जा रहा है। पुलिस भी राज्य में लोगों की मदद नहीं करती है। टीएमसी नेता आपस में लड़ रहे हैं। अर्जुन सिंह ने कहा कि इन सब के बाद अब मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को तुरंत इस्तीफा दे देना चाहिए।

बंगाल के बीरभूम के रामपुरहाट में सोमवार देर रात बम फेंककर पंचायत नेता भादू शेख की हत्या कर दी गई थी। जानकारी के अनुसार शेख स्टेट हाईवे 50 पर जा रहे थे। तभी अज्ञात लोगों ने उन पर बम फेंक दिया जिससे वे गंभीर रूप से घायल हो गए। इसके बाद उन्हें रामपुरहाट के मेडिकल कॉलेज ले जाया गया, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया था।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

10 + nineteen =