टीईटी परीक्षा में भ्रष्टाचार के खिलाफ सदर थाने में परीक्षार्थी द्वारा एफआईआर दर्ज

दार्जिलिंग : नोरा सुब्बा नामक परीक्षार्थी ने आज जीटीए के तत्कालीन अध्यक्ष, जीटीए के शिक्षा विभाग और अन्य संबंधित विभागीय अधिकारियों के खिलाफ सदर पुलिस स्टेशन में प्राथमिकी दर्ज कराई। जिसमें आरोप लगाया गया कि 14 फरवरी 2021 को जीटीए द्वारा टीईटी परीक्षा आयोजित की गई थी और उन्होंने इस परीक्षा में उसने भाग भी लिया था। उन्होंने बताया कि मैंने एक परीक्षार्थी के रूप में परीक्षा दी थी, लेकिन आज टीईटी परीक्षा का परिणाम सार्वजनिक नहीं कर रहा है।

निर्वाचित सदस्य विनय तमांग द्वारा किया गया खुलासा और फिंजो वांगेल गुरुंग द्वारा किए गए आरटीआई का जवाब सार्वजनिक हो गया। नोरा सुब्बा ने दार्जिलिंग प्रेस गिल्ड में संवाददाताओं से कहा कि उन्होंने शिक्षा विभाग और अन्य संबंधित विभागों के खिलाफ सदर थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी है।

उन्होंने बताया कि जीटीए द्वारा आयोजित टीईटी परीक्षा के दौरान सिंगापुर में काम करने के लिए और उसके परिवार से बात करने के बाद, मैंने 14 फरवरी 2021 को टीईटी परीक्षा फॉर्म पंजीकृत किया था, सुब्बा ने कहा कि उन्होंने फरवरी परीक्षा में भाग लेने के लिए विदेश से टिकट बुक किया था और परीक्षा केंद्र था मंगपु आकर परीक्षा दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *