नयी दिल्ली/रांची प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने शुक्रवार को धनशोधन मामले की जांच के सिलसिले में झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के राजनीतिक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा और उनसे जुड़े लोगों के खिलाफ लगभग 18 स्थानों पर छापेमारी की। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। उन्होंने  बताया कि साहिबगंज जिले और इसके बरहेट और राजमहल जैसे शहरों में छापेमारी की जा रही है और जांच राज्य में टोल प्लाजा निविदाओं के आवंटन में कथित अनियमितताओं से संबंधित है।

अधिकारियों ने बताया कि करीब 18 स्थानों पर छापेमारी की जा रही है और यह कार्रवाई धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) की आपराधिक धाराओं के तहत हो रही है। उन्होंने कहा कि धनशोधन का मामला राज्य पुलिस की प्राथमिकी से संबंधित है और ईडी कथित अवैध कोयला खनन संचालकों व झारखंड में टोल प्लाजा निविदाओं के संचालन में शामिल लोगों के बीच कथित संबंधों की भी जांच कर रहा है।

केंद्रीय एजेंसी ने मई में आईएएस अधिकारी पूजा सिंघल, उनके पति और अन्य के खिलाफ धनशोधन मामले की जांच सिलसिले में छापेमाारी की थी। झारखंड की खनन सचिव का प्रभार संभाल रहीं 2000 बैच की अधिकारी सिंघल को ईडी द्वारा गिरफ्तार किए जाने के बाद राज्य सरकार ने निलंबित कर दिया था। एजेंसी ने इस सप्ताह की शुरुआत में रांची की विशेष पीएमएलए अदालत में उनके और अन्य के खिलाफ आरोपपत्र दाखिल किया था।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

4 + fifteen =