अर्थव्यवस्था बचाने को अमेरिकी सदन में 484 अरब डॉलर के राहत पैकेज को मिली मंजूरी 

फोटो साभार : गूगल

वाशिंगटन : अमेरिकी संसद के निचले सदन प्रतिनिधि सभा ने 484 अरब डॉलर (करीब 37 लाख करोड़ रुपये) के राहत पैकेज बिल पर मुहर लगा दी। यह बिल ऊपरी सदन सीनेट से दो दिन पहले ही पारित हो चुका है। दोनों सदनों से मुहर लगने के बाद अब बिल को राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के हस्ताक्षर के लिए ह्वाइट हाउस भेज दिया गया है।

छोटे कोरोबारों के साथ ही अस्पतालों और कोरोना टेस्टिंग को मजबूत करने के लिए तैयार किए गए इस नए बिल को प्रतिनिधि सभा में 388 मतों से पारित किया गया। बिल के खिलाफ सिर्फ पांच मत पड़े। इस बिल में छोटे उद्योगों को मजबूती देने के लिए अतिरिक्त 310 अरब डॉलर का प्रस्ताव किया गया है।

अस्पतालों के लिए 75 अरब डॉलर और कोरोना वायरस टेस्टिंग के लिए 25 अरब डॉलर की व्यवस्था की गई है। इस नए बिल को अंतरिम इमरजेंसी फंडिंग पैकेज करार दिया गया है। इस बीच अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कोरोना के चलते भारी नुकसान झेलने वाली अमेरिकी अर्थव्यवस्था को सुरक्षित तरीके से फिर से खोलने का समर्थन किया।

मालूम हो कि अमेरिका की 95 फीसद से अधिक आबादी घरों में सिमटी हुई है और सामाजिक दूरी समेत अन्य सख्त कदम एक मई तक लागू हैं। ट्रंप ने अर्थव्यवस्था को धीरे-धीरे खोलने की जरूरत बताई और संकेत दिया कि कोरोना के चलते लगाई गई पाबंदियां एक मई के बाद भी जारी रह सकती हैं। ट्रंप ने कहा कि हमारी अर्थव्यवस्था को सुरक्षित तरीके से फिर से खोलना उत्साहजनक रहेगा लेकिन इसका यह मतलब नहीं है कि हम ढिलाई बरतें। अमेरिका को गति देने के लिए हर नागरिक को सतर्कता बरतने की जरूरत है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

3 × 5 =