डॉक्टर और सीए दिवस 1 जुलाई 2024 – जोश और उत्साह के साथ मनाया जा रहा है

बुद्धिजीवियों का जोश और जज्बा विजन 2047 की सीढ़ी बनेगा- एडवोकेट के.एस. भावनानी

एडवोकेट किशन सनमुखदास भावनानी, गोंदिया, महाराष्ट्र। भारत में हर साल 1 जुलाई को नेशनल डॉक्टर्स डे मनाया जाता है। उसी तरह हर साल 1 जुलाई को सीए दिवस के रूप में भी मनाया जाता है। डॉक्टर्स हमें स्वस्थ रखने के लिए बिना अपनी परवाह किए काम करते रहते हैं और इसका उदाहरण हमने कोविड महामारी के दौरान देखा था। वे हमेशा हमें स्वस्थ रहने की सलाह देते हैं ताकि हम बीमारियों से सुरक्षित रहें। डॉक्टर्स को भगवान का रूप कहा जाता है, क्योंकि वे हमारे जीवन की रक्षा करते हैं।

कोविड-19 महामारी के दौरान हमने डॉक्टर्स का ऐसा रूप देखा, जिससे उनके प्रति सम्मान और बढ़ जाता है। अपनी जान की परवाह किए बिना, वे मरीजों के प्राण बचाने की कोशिश में जुटे रहे। घंटों पीपीई किट में पसीने में तर-बतर होकर भी उन्होंने अपने कर्तव्य को पूरा करने से मुंह नहीं मोड़ा। सभी डॉक्टर को 1 जुलाई 2024 डॉक्टर्स डे की बहुत-बहुत बधाइयां शुभकामनाएं।

देश के सबसे पुराने पेशेवर संस्थानों में से एक, इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया (आईसीएआई) की स्थापना के उपलक्ष्य में हर साल 1 जुलाई को सीए दिवस मनाया जाता है। भारत की संसद द्वारा 1949 में स्थापित, आईसीएआई दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा लेखा और वैधानिक निकाय है। वहीं भारत का राष्ट्रीय पेशेवर लेखा निकाय है।

गौरतलब है कि दुनिया भर में आईसीएआई और चार्टर्ड अकाउंटेंट के लगभग 2.5 लाख सदस्यों को सम्मानित करने के लिए प्रतिवर्ष सीए दिवस मनाया जाता है। जैसे-जैसे हम 2024 के उत्सव के करीब पहुंच रहे हैं, आइए इस महत्वपूर्ण दिन के इतिहास, महत्व और प्रभाव पर गौर करें। सभी सीए भाइयों को इस दिवस की बहुत-बहुत बधाइयां शुभकामनाएं।

एडवोकेट किशन सनमुखदास भावनानी : संकलनकर्ता, लेखक, कवि, स्तंभकार, चिंतक, कानून लेखक, कर विशेषज्ञ

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे कोलकाता हिन्दी न्यूज चैनल पेज को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। एक्स (ट्विटर) पर @hindi_kolkata नाम से सर्च करफॉलो करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *