कोलकाता : 18 घंटे घर में ही पड़ा रहा कोरोना मरीज का शव

प्रतीकात्मक फोटो, साभार : गूगल

कोलकाता : महानगर के केष्टोपुर में 75 वर्षीय महिली की कोरोना के चलते मौत हो गई। कागजी कार्यवाही के नाम पर महिला का शव 18 घंटे तक उसी के घर में पड़ा रहा। आखिर में डेथ सर्टिफिकेट मिलने के बाद ही शुक्रवार को महिला का शव घर से ले जाया गया और अंतिम संस्कार हुआ।

इस दौरान महिला के परिजन मदद के लिए डॉक्टरों, पुलिस, पार्षद और राज्य के स्वास्थ विभाग के अधिकारियों को फोन करते रहे। पुलिस ने बताया कि महिला एक हफ्ते से बुखार, डायरिया, कफ और सर्दी से पीड़ित थी। 2 अगस्त को उसके परिवार ने कोरोना टेस्ट कराया तो वह संक्रमित पाई गई। डॉक्टर ने परिवार के आइसोलेशन और महिला के घर पर ही इलाज की सलाह दी है।

पार्षद, डॉक्टर, स्वास्थ्य विभाग किसी ने नहीं दिया जवाब
महिला के परिवार ने कई डॉक्टर्स को फोन किया लेकिन कोई भी डेथ सर्टिफिकेट बनाने को तैयार नहीं हुआ। एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि परिवार ने हमसे संपर्क किया और हमने स्वास्थ्य विभाग को सूचना दी लेकिन कोई जवाब नहीं मिली। इसी बीच में परिवार ने पार्षद से भी संपर्क किया लेकिन वहां से भी कोई मदद नहीं मिली।

शुक्रवार सुबह 9:30 बजे पुलिस ने एक डॉक्टर को फोन किया और डेथ सर्टिफिकेट बनवाया। आखिर में स्वास्थ्य विभाग के लोग आए और दोपहर 12:30 बजे महिला का शव लेकर गए। बिधाननगर पार्षद कृष्ण चक्रवर्ती ने कहा कि मरीज का शव ले जाने से पहले सभी प्रक्रियाओं का पालन किया गया। अब मृतका के घर और बिल्डिंग को सैनिटाइज किया जाएगा।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

5 + thirteen =