रचनाकार व पोथी-बस्ता का आयोजन – “ज़िन्दगी एक सफर है सुहाना”

कोलकाता । पोथी बस्ता एवं रचनाकार साहित्यिक संस्था के संयुक्त प्रयास से भारतीय भाषा परिषद सभागार में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया, दो सत्रों में आयोजित इस कार्यक्रम का प्रथम सत्र मुख्य अतिथियों के स्वागत, सम्मान एवं वक्तव्य का रहा। मुख्य अतिथि के तौर पर आमंत्रित थे, प्लास्टिक के खिलाफ लड़ाई को अपने जीवन का लक्ष्य बना चुके 20 वर्षीय युवा रोहन अग्रवाल एवं पत्रकारिता, लेखन, संपादन व समाजसेवा में निरंतर सक्रिय वनिता झारखंडी। रोहन अग्रवाल मूलतः नागपुर महाराष्ट्र के निवासी हैं, पिछले दो वर्षों से लगातार पैदल यात्रा पर हैं, इस यात्रा के दौरान वो कभी पैदल तो कभी लिफ्ट लेकर अपने गंतव्य की तरफ बढ रहें हैं, इस यात्रा के दौरान वे भारत के 19 राज्यों से होते हुए कोलकाता, पश्चिम बंगाल पहुँचे हैं। इस यात्रा में रोहन लोगों को प्लास्टिक प्रदूषण और प्लास्टिक के इस्तेमाल से होने वाले दुष्परिणामों के बारे में समझाना भी सुनिश्चित कर रहें हैं।

भारत के बाद रोहन इसी माध्यम से कई देशों की यात्रा करते हुए साइबेरिया में ओम्याकोम पहुँचेंगे। ओम्याकोम का तापमान -72 डिग्री रहता है और इसे पृथ्वी का सबसे ठंडा क्षेत्र माना गया है। अगर रोहन अपनी योजना में सफल होते हैं तो भारत से वहाँ पहुँचने वाले वे पहले भारतीय होंगे। कार्यक्रम की दूसरी मुख्य अतिथि कोलकाता की ही निवासी, पेशे से पत्रकार, वनिता झारखंडी लेखन, संपादन एवं सामाजिक गतिविधियों में भी निरंतर सक्रिय हैं तथा नई किरण सौर्या संस्था की एडमिनिस्ट्रेशन व आँगन संस्था की अध्यक्ष हैं। पेनचेक सिलाट (मार्शल आर्ट) बंगाल एसोसिएशन से भी जुडी हैं। कई अनाथ और गरीब बच्चों के लालन-पालन, शिक्षा और रोज़गार की जिम्मेदारी वनिता ने उठा रखी है। इस अवसर पर दोनों ही मुख्य अतिथियों को अंग वस्त्र एवं सम्मान पत्र देकर सम्मानित किया गया तथा दोनों ही मुख्य अतिथियों ने अपने प्रेरणादायक वक्तव्य में अपने अनुभव को साझा किया।

कार्यक्रम का दूसरा सत्र कवि और कविता के नाम रहा, जिसकी अध्यक्षता वरिष्ठ कवि चंद्रिका प्रसाद पांडेय अनुरागी ने किया, दूसरे सत्र में मुख्य अतिथि के तौर पर मंचासीन रहे गंभीर समाचार के सहसंपादक विवेक शुक्ला, सुरेश चौधरी, नंदलाल रौशन, नवीन कुमार सिंह व रमाकांत सिन्हा। कविता पाठ करने वाले कवियों में शामिल रहे – दीपक सिंह, पंकज शर्मा, विक्की यादव, आँखी दास, रोहित कुमार राम, निशा कोठरी, सौरभ कुमार झा, अनुराधा कुमारी सिंह, अर्शीयान अली वारसी, प्रदीप कुमार धानुक, अभिषेक कुमार पांडेय, मुकुंद शर्मा, नविन कुमार सिंह, श्रद्धा टिबरेवाल, शकील गोंडवी, संचिता सक्सेना, रचना सरन व अन्य।

इस अवसर पर पोथी बस्ता की संस्थापक अनु नेवटिया एवं रचनाकार साहित्यिक संस्था के संस्थापक सुरेश चौधरी भी उपस्थित रहे। कार्यक्रम बेहद सफल रहा तथा श्रोतागण न सिर्फ प्रेरित हुए अपितु काव्य गोष्ठी का भी भरपूर आनंद लिया। कार्यक्रम को सफल बनाने में विशेष रूप से जिनका योगदान रहा वे हैं- रमाकांत सिन्हा, अनुराधा कुमारी सिंह, विक्की यादव शौर्य, आरती भारती, पंकज शर्मा, अमित कुमार अम्बष्ट, सरिता खोवाला। कार्यक्रम का संचालन किया रचना सरन ने व धन्यवाद ज्ञापन चन्द्रिका प्रसाद पांडेय ‘अनुरागी’ ने दिया।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

4 × 3 =