अम्फान को ‘राष्ट्रीय आपदा’ का दर्जा दिये जाने की मांग

फोटो, साभार : गूगल

कोलकाता : चक्रवात अम्फान को “राष्ट्रीय आपदा” घोषित किये जाने की मांग करते हुए विपक्षी दल कांग्रेस और माकपा ने राज्य के दौरे पर आए केंद्रीय दल से कहा कि नुकसान का समुचित आकलन करे, जिससे प्रभावित लोगों को केंद्र सरकार की तरफ से जरूरी सहायता मिलना सुनिश्चित हो सके।

पिछले साल हुए लोकसभा चुनावों में राज्य में मुख्य विपक्षी दल के तौर पर उभरी भाजपा ने हालांकि कहा कि शब्दावली पर चर्चा करते के बजाए, प्रयास इस बात का किया जाना चाहिए कि केंद्र से मिलने वाली आर्थिक सहायता जरूरतमंदों तक पहुंचे। गृह मंत्रालय में संयुक्त सचिव, साइबर और सूचना सुरक्षा, अनुज शर्मा के नेतृत्व में सात सदस्यीय दल ने चक्रवात प्रभावित इलाकों का जायजा लेने के लिये शुक्रवार को राज्य का दौरा किया था।

विधानसभा में वाम मोर्चे के नेता और माकपा विधायक सुजान चक्रवर्ती ने कहा कि केंद्र सरकार को यथाशीघ्र राहत पैकेज जारी करना चाहिए। उन्होंने कहा, “हम केंद्रीय दल के दौरे का स्वागत करते हैं और चाहते हैं कि केंद्र अम्फान को राष्ट्रीय आपदा घोषित करे। घरों को फिर से बनाने और लोगों के पुनर्वास के लिये जो भी राहत पैकेज जरूरी हो वह यथाशीघ्र लोगों को मिलना चाहिए।

वहीं कांग्रेस नेता अब्दुल मन्नान ने कहा कि अगर चक्रवात को राष्ट्रीय आपदा घोषित किया जाता है तो इससे अंतरराष्ट्रीय गैर सरकारी संगठनों का ध्यान और मदद इस तरफ आएगी। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सोमेन मित्रा ने कहा कि दल द्वारा सावधानीपूर्वक किये गए नुकसान के आकलन के बाद जारी होने वाली केंद्रीय राहत सीधे पीड़ितों को फायदा पहुंचाने वाली होनी चाहिए।

 

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

20 − 20 =