कोलकाता। पश्चिम बंगाल के पुरुलिया जिले में झालदा नगर पालिका के वार्ड नंबर दो पर हुए उपचुनाव में कांग्रेस ने बुधवार को जीत हासिल की। 13 मार्च को कांग्रेस पार्षद तपन कंडू की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इस हत्या के पीछे तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) का हाथ बताया गया था। दावा किया गया कि झालदा में कांग्रेस की मजबूत पकड़ को कमजोर करने के लिए तपन कंडू की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।

केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) फिलहाल तपन कंडू की हत्या की जांच कर रही है। तपन कूंड की हत्या के बाद खाली हुई इस सीट पर मतदान कराया गया। इस चुनाव में उनके भतीजे मिथुन कंडू को उम्मीदवार बनाया गया। उपचुनाव 26 जून को हुआ था।

मिथुन कांडू ने तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार जगन्नाथ रजक को 778 मतों के अंतर से हराया, जो उनके दिवंगत चाचा को मिले 124 मतों से बहुत अधिक था। राजनीतिक जानकारों ने कांग्रेस उम्मीदवार की जीत के पीछे सहानुभूति लहर का हवाला दिया।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

5 × 5 =