।।माँ।।

सोच रहा हूँ, खोज करूँ इक ऐसे वाई-फ़ाई की
एसी में जो ठण्डक ला दे सावन के पुरवाई की
डाउनलोडेड रिश्तों में गर्माहट इतनी आ जाये
“मॉम” “मदर” में फीलिंग आये, जैसे “आई” “माई” की

डीपी सिंह

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

nineteen + 13 =