डीपी सिंह की रचनाएं

बेटी दिवस विशेष

जब मनुज संस्कारों पॅ इतरायेगा
नारी – रक्षार्थ जब गिद्ध भी धायेगा
हर पुरुष गिद्ध से यदि जटायू बने
राम – सा राज्य भू पर पुनःआयेगा

–डीपी सिंह

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

1 × 2 =