Coal Scam : प्रवर्तन निदेशालय ने कोलकाता में ट्रैवल कंपनी के दफ्तर में तलाशी ली

कोलकाता। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के अधिकारियों ने शनिवार को कोलकाता में एक निजी टूर – ट्रैवल कंपनी के दफ्तर पर तलाशी अभियान चलाया। यह तलाशी करोड़ों रुपये के कथित कोयला चोरी घोटाले के सिलसिले में की गयी। जांच एजेंसी के सूत्रों ने यह जानकारी दी। सूत्रों ने बताया कि ईडी के अधिकारी एक गुप्त सूचना पर शहर के बीचोंबीच इंडिया एक्सचेंज प्लेस में स्थित कंपनी के दफ्तर में पहुंचे और तलाशी ली।

ईडी ने सीबीआई की नवंबर 2020 में दर्ज एक प्राथमिकी का अध्ययन करने के बाद धन शोधन रोकथाम कानून की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया था। सीबीआई ने प्राथमिकी में आसनसोल के आसपास कुनुस्तोरिया तथा काजोरा क्षेत्रों में ईस्टर्न कोलफील्ड्स से संबंधित करोड़ों रुपये के कोयले की चोरी का आरोप लगाया है। ईडी घोटाले में धनशोधन के पहलू की जांच कर रही है।

मामले में स्थानीय कोयला कारोबारी अनूप माझी उर्फ लाला प्रमुख संदिग्ध है। ईडी ने धनशोधन मामले में कम से कम दो गिरफ्तारियां की हैं। इनमें से एक विकास मिश्रा है, जो तृणमूल कांग्रेस की युवा इकाई के नेता विनय मिश्रा का भाई है। बताया जाता है कि विनय मिश्रा कुछ समय पहले देश छोड़कर चला गया और उसने संभवत: अपनी भारतीय नागरिकता भी छोड़ दी है।

ईडी ने इस साल की शुरुआत में इस मामले में बांकुड़ा थाने के पूर्व प्रभारी अशोक कुमार मिश्रा को भी गिरफ्तार किया था। ईडी ने मामले में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे और तृणमूल कांग्रेस सांसद अभिषेक बनर्जी तथा उनकी पत्नी को पूछताछ के लिए तलब किया है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

seventeen − 13 =