नयी दिल्ली। भारतीय नौसेना के प्रमुख, एडमिरल आर हरि कुमार ने कहा है कि चीन अब भी भारत के लिए सरहदों पर एक विकट चुनौती है। उन्होंने कहा कि आतंकवाद का बदलता स्वरूप भी देश की सुरक्षा के लिए एक ख़तरा है। ऑल इंडिया मैनेजमेंट एसोसिएशन के एक समारोह में एडमिरल कुमार ने कहा कि चीन महज़ ज़मीनी सरहद पर ही नहीं बल्कि समुद्री सीमाओं पर भी अपनी मौजूदगी को मज़बूत कर रहा है।

“चीन अब भी विकट चुनौती है। उसने सिर्फ़ हमारी ज़मीनी सरहद ही नहीं बल्कि समुद्री सरहद पर भी अपनी मौजूदगी दर्ज की है। समुद्र में उसने एंटी-पाइरेसी ऑपरेशन को ढाल बनाकर, हिंद महासागर में अपनी नौसैनिक मौजूदगी को मजबूत किया है।

उन्होने कहा कि एंटी-पाइरेसी ऑपरेशन को ढाल बनाकर चीन साल 2008 से ही हिंद महासागर क्षेत्र में अपनी मौजूदगी बढ़ा रहा है। अपने तर्क के पक्ष में एडमिरल हरि कुमार ने कहा, “किसी भी समय पांच से आठ चीनी नेवी यूनिट्स – जिनमें युद्धपोत और रिसर्च करने वाले जहाज़ शामिल हैं, हिंद महासागर में तैनात रहते हैं। हम उन पर नज़र रखते हैं।”

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

1 × two =