भोपाल। मध्य प्रदेश में एक ही सुई से 30 बच्चों को कोविड का टीका दिए जाने का मामला सामने आया है। ये घटना मध्य प्रदेश के सागर ज़िले की है, जहां एक स्कूल में बच्चों को कोविड का टीका दिया जा रहा था। भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय के दिशा निर्देशों के अनुसार, ‘एक सुई, एक सिरिंज, केवल एक बार’ का प्रोटोकॉल कोविड-19 की वैक्सीन के लिए निर्धारित है।  भारत में लोगों को अभी तक कोरोना वैक्सीन की 200 करोड़ खुराक दिए जा चुके हैं। भारत में एचआईवी जैसी बीमारियों को फैलने से रोकने के लिए सिंगल-यूज डिस्पोजलेबल सिरिंज का व्यापक स्तर पर इस्तेमाल किया जाता है।

हालांकि कई बार ऐसे मामले भी सामने आए हैं जब अस्पतालों में सिंगल-यूज डिस्पोजलेबल सिरिंज की कमी के कारण एक ही सुई का अधिक बार इस्तेमाल किया गया। बच्चों को वैक्सीन लगाने वाले जितेंद्र राय ने स्थानीय मीडिया को बताया कि उन्हें स्वास्थ्य विभाग की ओर से केवल एक ही सुई दी गई थी और वे सिर्फ़ आदेशों का पालन कर रहे थे। बच्चों को वैक्सीन दिलाने आए अभिभावकों ने ये मामला उठाया और स्कूल प्रशासन से इसकी शिकायत की।

जब अधिकारी स्कूल पहुंचे तो जितेंद्र राय वहां मौजूद नहीं थे और उनका फोन भी स्विच ऑफ़ बता रहा था। राज्य सरकार के स्वास्थ्य विभाग ने उनके ख़िलाफ़ लापरवाही का मामला दर्ज कराया है। इस बीच वैक्सीनेशन अभियान के लिए ज़रूरी चीज़ें भेजने वाले अधिकारी के ख़िलाफ़ भी जांच शुरू कर दी गई है। विपक्षी कांग्रेस पार्टी ने इस मुद्दे पर राज्य के स्वास्थ्य मंत्री के इस्तीफे की मांग की है। इस घटना की जांच की जा रही है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

five + 3 =