बीरभूम के बागटुई गांव में फिर मिले बम

बीरभूम। पश्चिम बंगाल के बीरभूम जिले के रामपुरहाट एक ब्लॉक के बड़शाल ग्राम पंचायत के जिस बागटुई गांव में 9 लोगों को जिंदा जला दिया गया था, उस गांव से दो ड्रम बम बरामद हुए हैं। ये बम भादू शेख हत्या मामले में फरार आरोपी पलास शेख के घर के पीछे से रविवार को बरामद हुए। इसके बाद इलाके के लोगों में हड़कंप मच गया। घटना की सूचना मिलते ही भारी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंचा। रविवार सुबह ही रामपुरहाट के एसडीपीएओ धीमान मित्र के नेतृत्व में पुलिस बल ने इलाके को घेर लिया।

तत्काल दमकल और बम निरोधक दस्ते को सूचना दी गयी। दमकल और बम निरोधक दस्ता के लोग बागटुई पहुंच गये। बम निरोधक दस्ते ने दो ड्रम में भरे बम बरामद किये। पास के ही चंदनपाड़ा गांव के सुनसान स्थान पर दोपहर में बम निरोधक दस्ते ने सभी बमों को निष्क्रिय कर दिया। बताया जाता है कि 21 मार्च की रात बागटुई ग्राम में तृणमूल कांग्रेस के नेता व उप प्रधान भादू शेख की हत्या के बाद हुए नरसंहार में नौ लोगों को जिंदा जला दिया गया था। इसके बाद से ही बागटुई ग्राम सुर्खियों में है।

कलकत्ता हाईकोर्ट ने सीबीआई को बागटुई गांव में हुए नरसंहार की जांच करने को कहा है। इस मामले में रामपुरहाट एक ब्लॉक के तृणमूल कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष अनारुल हुसैन की गिरफ्तारी समेत कुल 22 लोगों को सीबीआई ने गिरफ्तार किया है। आज बागटुई ग्राम में 13 दिन बाद फिर से बम मिलने के बाद इलाके में दहशत का माहौल है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

19 − 14 =