बंगाल के एक सार्वजनिक शौचालय में बम विस्फोट, नाबालिग की मौत

कोलकाता। पश्चिम बंगाल के उत्तर 24 परगना जिले में सोमवार को एक सार्वजनिक शौचालय में हुए बम विस्फोट में 11 वर्षीय एक लड़के की मौत हो गयी। पुलिस ने यह जानकारी दी। एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि सुभासपल्ली निवासी नाबालिग बनगांव इलाके में रेल गेट-1 के पास स्थित सार्वजनिक शौचालय में गया था, जहां विस्फोट हुआ। विस्फोट में वह गंभीर रूप से घायल हो गया। बनगांव एसडीपीओ अर्क पांजा ने कहा कि घटना की जांच शुरू कर दी है।

उन्होंने बताया कि लड़के को स्थानीय अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।अधिकारी के अनुसार, ऐसा प्रतीत होता है कि बक्सीपल्ली इलाके के एक सार्वजनिक शौचालय में रखा बम फट गया।स्थानीय लोगों ने इस घटना पर दुख व्यक्त किया और सार्वजनिक शौचालय में कथित तौर पर बम रखने वालों को गिरफ्तार करने की मांग की।

राज्य में गत मई से लगातार विस्फोट हो रहे हैं। एगरा, बजबज, इंग्लिश बाजार जैसे इलाकों में पटाखे की फैक्ट्रियों में हुए विस्फोट में कई लोगों की मौत हो गई है। अवैध रूप से रखे बमों के फटने से कई बार दुर्घटनाएं हुई हैं। राजू के पिता ने कहा कि ब्लास्ट के बाद शौचालय के अंदर जाकर देखा तो हर तरफ खून ही खून नजर आया।

राजू के पिता ने घटना की जांच की मांग करते हुए कहा, इस तरह की घटना में कभी भी एक व्यक्ति शामिल नहीं होता है। हम न्याय चाहते हैं। मैं जानना चाहता हूं कि इस घटना के पीछे कौन है। इस बीच बनगांव में बख्शी पल्ली में हुए विस्फोट को लेकर राजनीतिक बयानबाजी शुरू हो गई है। बनगांव उत्तर के भाजपा विधायक अशोक कीर्तनिया ने कहा, ”पूरा पश्चिम बंगाल (West Bengal) बारूद के ढेर पर खड़ा है।

बनगांव इसका एक हिस्सा है। इससे पहले आम चुनाव के दौरान हमने देखा कि बनगांव के सभी बूथों पर बम रखे हुए थे। पुलिस आज तक कुछ नहीं कर पाई।” दूसरी ओर, बनगांव के तृणमूल नेता गोपाल सेठ ने कहा, इस क्षेत्र के भाजपा विधायक ने खुले तौर पर तोड़फोड़ की धमकी दी। उनके खिलाफ ड्रग्स से जुड़े आरोप भी हैं। हम इस घटना की उच्च स्तरीय जांच भी चाहते हैं।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *