अमित शाह की दौरे के बीच बंगाल में BJP कार्यकर्ता की मौत बनी रहस्य

कोलकाता। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के पश्चिम बंगाल के दौरे के दूसरे दिन एक भाजपा कार्यकर्ता की रहस्यमयी मौत ने हंगामा खड़ा कर दिया है। इसे राजनीतिक हत्या कहा जा रहा है। शाह तीन के दौरे पर पश्चिम बंगाल पहुंचे हैं। इस बीच अपने दौरे के दूसरे दिन अमित शाह ने कूच बिहार जिले में सीमा चौकी (BOP) जिकाबारी का दौरा किया और बीएसएफ कर्मियों के साथ बातचीत की। इधर, घटना के बाद अमित शाह के कोलकाता में लौटने पर पूर्व घोषित स्वागत कार्यक्रम रद्द कर दिए गए।

मामला कोलकाता के चितपुर थाना क्षेत्र स्थित घोष बागान में शुक्रवार सुबह सामने आया। मृत का नाम अर्जुन चौरसिया (26) है। वह काशीपुर-बेलगछिया के भाजपा युवा मंडल उपाध्यक्ष था। परिजनों ने इसे हत्या बताते हुए CBI जांच की मांग की है। शुक्रवार सुबह रेलवे क्वार्टर में एक खाली घर के अंदर अर्जुन का शव फंदे पर लटका मिला था। परिवारवालों का आरोप है की हत्या करके शव को फंदे से लटका गया।

तर्क दिया गया कि मृतक के पैर जमीन से टिके हुए थे। इसलिए यह आत्महत्या नहीं हो सकती है। मृतक की बहन सुनीता चौरसिया ने बताया कि विधानसभा चुनाव का रिजल्ट आने के बाद से ही उसके भाई को जान से मारने की धमकियां मिल रही थीं। वो कई दिनों तक घर से भागकर छिपकर रहा था। हालांकि कोर्ट के निर्देश के बाद वो घर लौटा था। फिर भी धमकियां नहीं रुकीं।

भाजपा नेता दिलीप घोष ने कहा-हमारे कार्यकर्ताओं को परेशान करने और धमकाने के लिए एक पूर्व नियोजित रणनीति है। हमारे कार्यकर्ता अभिजीत की पिछले साल 2 मई को हत्या कर दी गई थी और तब से अब तक 60 हत्याएं हो चुकी हैं। किसी को सजा नहीं दी गई, कोई चार्जशीट दाखिल नहीं की गई। सीबीआई के बिना इसे सुलझाया नहीं जा सकता। पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

1 × 3 =