नयी दिल्ली। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि भाजपा आज एक सीरियल किलर की तरह जनता द्वारा चुनी हुई सरकारों को मारने में जितनी उर्जा लगाती है उससे कम मेहनत में बच्चों के लिए स्कूल-अस्पताल बनवाकर लोगों को बेहतर शिक्षा-इलाज दे सकती है। सिसोदिया ने दिल्ली विधानसभा के विशेष सत्र में कहा कि भाजपा आज एक सीरियल किलर की तरह जनता द्वारा चुनी हुई सरकारों को मारने में जितनी उर्जा लगाती है, उससे कम मेहनत में बच्चों के लिए स्कूल-अस्पताल बनवाकर लोगों को बेहतर शिक्षा-इलाज दे सकती है। हमें दिल्ली की जनता ने प्यार के साथ चुना है। हमारे साथ दिल्ली की जनता की वोट की ताकत है। कोई हमें खरीद नहीं सकता।

इसलिए ये लोग मेरे खिलाफ एक बार नहीं एक हजार बार रेड करवा लें पर इन्हें कुछ नहीं मिलेगा। मेरे खिलाफ एक पैसे की बेईमानी का सबूत नहीं मिलेगा। मैंने ईमानदारी के साथ काम किए। बच्चों के लिए शानदार स्कूल बनवाए। दिल्ली में पढ़ाई का शानदार माहौल तैयार किया। केजरीवाल अच्छा काम करने पर प्रोत्साहित करते है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अच्छा काम करने वालों के घर रेड डलवाते है, फर्जी एफआईआर करवाते है। कही भी कोई अच्छा काम करे तो प्रधानमंत्री असुरक्षित महसूस करने लगते है।

यही कारण है कि आजादी के 75 सालों बाद भी भारत शिक्षा व स्वास्थ्य के क्षेत्र में इतना पिछड़ा हुआ है क्योंकि देश में अच्छा काम करने वालों को प्रोत्साहित करने के बजाय उन्हें काम करने से रोका जाता है। उप मुख्यमंत्री ने सदन में कहा कि 19 अगस्त की सुबह मेरे पास विश्व के सबसे बड़े अख़बारों में शामिल न्यूयॉर्क टाइम्स की एक क्लिपिंग आई। जिसके फ्रंट पेज पर दिल्ली का एजुकेशन मॉडल छाया हुआ था।

मुझे यह देख कर एक भारतीय के नाते बेहद गर्व हुआ‌ साथ ही यह ख़ुशी भी हुई कि कोरोना के दौरान जिस न्यूयॉर्क टाइम्स में गंगा नदी के पास हजारों की संख्या में जलती लाशों कि तस्वीरें छपी थी, जो देश में कोरोना के कु-प्रबंधन को दर्शा रही थी। जिसे देख के हर भारतीय को पीड़ा हुई थी। वहां आज हमारे अच्छे कामों की तारीफ़ हो रही है| उन्होंने कहा कि मैं यह खबर पढ़ ही रहा था कि मेरे यहां सीबीआई को भेज दिया गया और मेरे खिलाफ जो एफआईआर दर्ज की गई थी वो पूरी तरह से फर्जी थी।

उन्होंने कहा कि मेरे घर 14 घंटे तक सीबीआई की रेड चली। सीबीआई ने घर का हर-एक कोना छान मारा लेकिन उनको कुछ नहीं मिला। मेरे खिलाफ एक पैसे की बेईमानी का सबूत नहीं मिला। उन्होंने कहा कि ये लोग मेरे खिलाफ एक बार नहीं एक हजार बार रेड करवा लें पर इन्हें कुछ मिलेगा नहीं। क्योंकि मैंने ईमानदारी के साथ काम किए हैं। बच्चों के लिए शानदार स्कूल बनवाएं है, टीचर्स के साथ मिलकर पूरी दिल्ली में पढ़ाई का शानदार माहौल तैयार किया है। अरविंद केजरीवाल जी के मार्गदर्शन में दिल्ली की शिक्षा व्यवस्था को आगे बढ़ाया है और अगर यह करना गुनाह है तो मैं हर सजा भुगतने के लिए तैयार हूँ।

उन्होंने आगे कहा कि आज अरविंद केजरीवाल के कामों की हर तरफ चर्चा है।‌2015 तक दिल्ली के सरकारी स्कूल टीन-टप्पड वाले स्कूल, गड्ढे वाले स्कूल, टेंट वाले स्कूल के नाम से जाने जाते थे। लेकिन हमने सरकारी स्कूलों की सूरत को बदलने का काम किया। हमने दिल्ली में 700 नए स्कूलों की बिल्डिंग बनाई और इसमें दिल्ली के बच्चों का भविष्य बना रहे हैं। अब ये स्कूल लैब वाले स्कूल, स्विमिंग पूल वाले स्कूल, रोबोटिक्स वाले स्कूल के नाम से जाने जाते हैं। हमने 19 हजार नए शिक्षकों की भर्ती की, बच्चों का रिजल्ट और कॉन्फिडेंस बढ़ा।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

1 × four =