बिहार: भीड़ ने संदिग्ध आरोपी की जमकर की पिटाई, बचाने गई पुलिस को भी बनाया बंधक

हाजीपुर। बिहार के वैशाली जिले के महनार थाना क्षेत्र में दसवीं में पढ़ने वाली एक छात्रा की हत्या को लेकर अब लोगों का गुस्सा सड़कों पर फूटने लगा है। इस मामले में स्थानीय लोगों ने सोमवार को एक संदिग्ध की जमकर पिटाई कर दी तथा बचाने गई पुलिस को भी भीड़ का कोपभाजन बनना पड़ा।

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि गुप्त सूचना के आधार पर दसवीं की छात्रा हत्या के मामले में पुलिस सोमवार को एक संदिग्ध आरोपी को गिरफ्तार करने अब्दुल्ला चौक पहुंची थी। इस दौरान इसकी सूचना ग्रामीणों को भी लग गई। बड़ी संख्या में जुटे ग्रामीण संदिग्ध आरोपी को पकड़कर उसकी जमकर पिटाई कर दी।

इस बीच, जब पुलिस उसके बचाव में सामने आई तब भीड आक्रोशित हो गई। पुलिस किसी तरह संदिग्ध आरोपी को लेकर एक दुकान में घुस गई और खुद को बंद कर लिया। बाद में पुलिस अधीक्षक मनीष के पहुंचने और आश्वासन दिए जाने के बाद लोग पीछे हट गए और पुलिस संदिग्ध आारोपी को लेकर थाना पहुंची। पुलिस अधीक्षक ने बताया आरोपी की पहचान दशरथ मांझी के रूप में हुई है। पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है।

उल्लेखनीय है कि महानार थाना क्षेत्र में 15 सितंबर को एक दसवीं की नाबालिग छात्रा का शव बरामद किया गया था। छात्रा 14 सितंबर को सुबह अपने घर से कोचिंग के लिए निकली थी, लेकिन वह कोचिंग नहीं पहुंची। एक दिन बाद 15 सितंबर को बरेठा बही चौक के पास पानी में अर्धनग्न अवस्था में छात्रा का शव बरामद किया गया था।

छात्रा की हत्या के बाद से इसपर राजनीति तेज हो गई। लोजपा के नेता चिराग पासवान मृतक के परिजनों से मिलने उनके घर पहुंचे और लोगों को सांत्वना दी। चिराग ने इस हत्या की उच्च स्तरीय जांच की भी मांग की है। इधर, कई छात्र संगठन भी इस मामले में हत्यारों की जल्द गिरफ्तारी की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

nine + nine =