वाशिंगटन। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बिडेन ने अमेरिकी कांग्रेस को लिखे एक पत्र में कहा है कि वह अफगानिस्तान की एक प्रमुख गैर-नाटो सहयोगी के रूप में यथास्थिति रद्द कर देंगे। बिडेन ने हाउस स्पीकर नैन्सी पेलोसी को लिखे पत्र में कहा, “ वर्ष1961 के विदेशी सहायता अधिनियम की धारा 517 के संशोधन (22 यूएससी 2321के) के अनुसार, मैं प्रमुख गैर-नाटो सहयोगी के रूप में अफगानिस्तान की यथास्थिति को रद्द करने के अपने इरादे को व्यक्त कर रहा हूं।”

वर्ष 2012 में तत्कालीन अमेरिकी विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन ने अफगानिस्तान को एक प्रमुख गैर-नाटो सहयोगी करार दिया था, जिससे दोनों देशों के लिए रक्षा और आर्थिक संबंध बनाए रखने का रास्ता साफ हो गया था। अफगानिस्तान पर नवीनतम निर्णय के साथ अब अमेरिका के 18 प्रमुख गैर-नाटो सहयोगियों में अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया, बहरीन, ब्राजील, कोलंबिया, मिस्र, इज़राइल, जापान, जॉर्डन, कुवैत, मोरक्को, न्यूजीलैंड, पाकिस्तान, फिलीपींस, कतर, दक्षिण कोरिया, थाईलैंड और ट्यूनीशिया होंगे।

यूनान में अज्ञात हेपेटाइटिस से बच्चे की मौत

यूनान में अज्ञात हेपेटाइटिस से एक बच्चे की मौत का पहला मामला सामने आया है। राष्ट्रीय सार्वजनिक स्वास्थ्य संगठन (ईओडीवाई) ने यह जानकारी दी।ईओडीवाई की ओर से जारी बयान के मुताबिक दो दिनों से बुखार और थकान से पीड़ित 13 माह के एक बच्चे को निजी बाल चिकित्सा क्लिनिक लाया गया था। बच्चे को परीक्षण के दौरान लिवर फेल होने और शोफ मस्तिष्क का पता चला । डॉक्टरों ने हालांकि उपचार का काफ प्रयास किया , लेकिन उसे बचाया नहीं जा सका।

यूनान में बच्चों में अज्ञात तीव्र हेपेटाइटिस के 11 अन्य मामले दर्ज किए गए हैं, हालांकि इन मामलों में न तो विशेष उपचार की आवश्यकता होती है और न ही किसी चिकित्सीय जटिलता का पालन किया जाता है।बयान में कहा गया है कि दुनिया भर में 33 देशों में लगभग 920 समान हेपेटाइटिस के मामले दर्ज किए गए हैं। इनमें 45 मामलों में लीवर प्रत्यारोपण की आवश्यकता थी और 18 मामलों में मौत हुई है , हालांकि हाल के हफ्तों में दुनिया भर में ऐसे मामलों में लगातार गिरावट आयी है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

1 × two =