प्रतिकात्मक फोटो, साभार गूगल

कोलकाता। पश्चिम बंगाल के उत्तर 24 परगना स्थित नो‍आपाड़ा थानांतर्गत इच्छापुर में बुजुर्ग महिला शिक्ता चट्टोपाध्याय (75) की हत्या की गुत्थी दो दिन में ही पुलिस ने सुलझा ली है। आरोपी भिखारी को गिरफ्तार कर लिया गया है। पूछताछ में उसने कबूल किया है कि 15 हजार रुपये के लिए उसने वृद्धा की हत्या कर दी है। आरोपी का नाम अंजन चौधरी बताया गया है। वह गारुलिया के लेनिननगर का निवासी है। मंगलवार रात आरोपी को लेनिननगर स्थित उसके घर से गिरफ्तार किया गया। आरोपी मृतका का पूर्व परिचित है।

पता चला है कि छह साल पहले छिनताई कर भागने की कोशिश में ट्रेन की चपेट में आकर अंजन का एक पैर कट गया था। इसके बाद बैसाखी के सहारे चलकर और भीख मांगकर अपना जीवन चला रहा था। एक दिन शिक्ता चट्टोपाध्याय से उसकी मुलाकात हुई। शिक्ता ने नकली पैर लगवाने के लिए आर्थिक मदद का आश्वासन दिया। नकली पैर खरीदने के लिए 15 हजार रुपये देने की बात कही थी। पैसे लेने वह कई बार वृद्धा से मिलने उसके घर गया। महिला उसे आर्थिक मदद करती रहती थी।

रविवार को 15 हजार रुपये लेने के लिए वह वृद्धा के घर गया। महिला ने उसे चाय पिलायी, लेकिन रुपये देने में असमर्थता जतायी। इसके बाद आरोपी उससे उलझ गया. रुपये नहीं देने की बात सुनकर ही भिखारी ने वृद्धा की साड़ी के आंचल से ही उसका गला दबाकर मारने की कोशिश की। इससे पहले कि महिला की चीख किसी को सुनाई दे, उसने चाकू से उसका गला रेत दिया. इसके बाद फरार हो गया।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

5 × 4 =