कोलकाता। पश्चिम बंगाल में गौतम अडनी के अडानी ग्रुप की कंपनी अडानी एंटरप्राइजेज शहर के बाहरी इलाके में न्यू टाउन क्षेत्र में बंगाल सिलिकॉन वैली में एक हाइपर-स्केल डेटा सेंटर स्थापित करेगी। बंगाल सरकार ने इस पर मुहर लगा दी है। बता दें कि देश के दूसरे अमीर आदमी गौतम अडानी को ममता सरकार ने पश्चिम बंगाल में कारोबार फैलाने के लिए 51 एकड़ से अधिक जमीन मुहैया करा दी है। बंगाल के उद्योग मंत्री पार्थ चटर्जी ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में जानकारी दी कि राज्य मंत्रिमंडल ने अडानी एंटरप्राइजेज को राजारहाट न्यू टाउन में बंगाल सिलिकॉन वैली में 100 प्रतिशत हाइपर-स्केल डेटा सेंटर स्थापित करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। यह परियोजना 51.75 एकड़ भूमि पूरी की जायेगी।

रिपोर्ट के अनुसार, जमीन अडानी इंटरप्राइजेज को 99 साल की लीज पर दी गयी है। हालांकि उद्योग मंत्री ने निवेश की राशि का खुलासा नहीं किया है। यह जानकारी भी नहीं दी गयी है कि यह परियोजना आगे कितनी नौकरियां पैदा कर सकती है। यह परियोजना विशेष रूप से नवीन सूचना प्रौद्योगिकी केंद्र, बंगाल सिलिकॉन वैली की कल्पना आईटी, आईटीईएस और दूरसंचार परियोजनाओं में रोजगार की संभावना पैदा करेगी।

बता दें कि इस साल अप्रैल में बंगाल ग्लोबल बिजनेस समिट के छठे संस्करण में अडानी ग्रुप ने पोर्ट इंफ्रास्ट्रक्चर, डेटा सेंटर, और अंडरसी केबल, डिजिटल इनोवेशन, फुलफिलमेंट सेंटर, वेयरहाउस, और में एक दशक में 10,000 करोड़ रुपए का किया है। बीएसई ने अडानी एंटरप्राइजेज से स्पष्टीकरण मांगा है कि एनटीपीसी ने कंपनी को 6,000 करोड़ रुपये के कोयला आयात टेंडर दिया है। अडानी ग्रुप बिजली के संकट को दूर करने के लिए विदेश से कोयले का आयात करेगी।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

five + 19 =