कोरोना संक्रमण के बीच श्रद्धालुओं के लिये खुला बेलुर मठ, सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम

फोटो, साभार : गूगल

हावड़ा : बेलूर मठ के जिन दो वरिष्ठ संन्यासियों में गत सप्ताह कोरोना की पुष्टि हुई थी उनकी हालत में सुधार हो रहा है और आवश्यक सुरक्षा उपाय बरतने के बाद तीन दिन पहले मंदिर परिसर के दरवाजे आगंतुकों के लिए खोल दिए गए। एक प्रवक्ता ने गुरुवार को यह जानकारी दी।

रामकृष्ण मठ और मिशन मुख्यालय में प्रवक्ता ने कहा कि आरोग्य सदन परिसर में रहने वाले दोनों संन्यासियों का एक निजी अस्पताल में उपचार चल रहा है और उनमें से एक को एक दो दिन में अस्पताल से छुट्टी मिल जाएगी। श्रद्धालुओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए किए गए उपायों के बारे में पूछे जाने पर प्रवक्ता ने कहा कि संन्यासी आरोग्य सदन में रहते थे, जो  मंदिर से 500  मीटर दूर है।

उस क्षेत्र को सील कर सैनिटाइज किया गया है। कोविड-19 से बचाव के लिए दिशा निर्देशों का पालन किया गया है इसलिए श्रद्धालुओं का प्रवेश रोकने की कोई जरूरत नहीं थी। संक्रमित संन्यासियों में से एक डॉक्टर है और दूसरा वकील। माना जा रहा है कि एक पुरुष परिचारक के संपर्क में आने से संन्यासियों को संक्रमण हुआ। प्रवक्ता ने कहा कि परिचारक में लक्षण नहीं थे और उसे पृथकवास में रखा गया है और वह ठीक है।

 

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

fourteen + 20 =