कोलकाता। पश्चिम बंगाल (West Bengal) से फर्जी नोट का एक मामला सामने आया है, हालांकि इस मामले में नकली नोट छापने वाले का किस्मत ने साथ नहीं दिया और उसे पकड़ लिया गया। एक रिपोर्ट के अनुसार, यह मामला पश्चिम बंगाल के बांकुड़ा जिले (Bankura District) का है। पुलिस ने  बताया कि उसने बांकुड़ा जिले के एक 59 साल के व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। उसके घर से पुलिस ने नकली नोट और छापने में इस्तेमाल हुआ प्रिंटर बरामद किया है। आरोपी की पहचान गुरुपाद आचार्जी के रूप में की गई है। आरोपी ने घर पर नकली नोट छापकर उसे बाजार में चलाने का प्रयास किया था, लेकिन उसे पकड़ लिया गया और पब्लिक ने जमकर उसकी धुनाई भी कर दी।

पुलिस अधिकारियों के अनुसार, आचार्जी ने घर पर ही नकली नोट छापा और बिश्नुपुर पुलिस स्टेशन के अंतर्गत पड़ने वाले श्यामनगर बाजार  में उसे चलाने पहुंचा। आचार्जी श्यामनगर बाजार में एक दुकान में खिलौने खरीदने पहुंचा था। उसने खिलौनों के बदले 500 रुपये का नकली नोट दिया, जिसे दुकानदार ने पहचान लिया। इसके बाद स्थानीय लोग वहां जमा हो गए और आरोपी की जमकर पिटाई कर दी।

पुलिस इसकी सूचना मिलने पर घटनास्थल पहुंची और आरोपी को भीड़ की गिरफ्त से छुड़ाया। इसके बाद आरोपी को अस्पताल में भर्ती कराया गया। पुलिस ने इसके बाद आरोपी के घर पर छापेमारी की। छापेमारी में उसके घर से 1,65,560 रुपये के नकली नोट बरामद किए गए। इसके अलावा एक प्रिंटर और सामान भी मिले। पुलिस ने इसके बाद आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने बताया कि इस मामले में आगे की जांच अभी जारी है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

one × 2 =