Babul Supriyo

कोलकाता। तृणमूल कांग्रेस सांसद महुआ मोइत्रा के बयान के बाद मां काली के विवादित पोस्टर पर चल रहा विवाद खत्म होने का नाम ही नहीं ले रहा है। महुआ मोइत्रा के बाद अब बाबुल सुप्रियो का मां काली पोस्टर विवाद पर बयान आया है। तृणमूल कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता बाबुल सुप्रियो ने इस विवाद को लेकर बीजेपी को आड़े हाथ लिया है। उन्होंने कहा है कि बीजेपी इस विवाद में खुद अपने चेहरे पर कालिख पोतने का काम कर रही है। बाबुल सुप्रियो का यह बयान तब आया है, जब मंगलवार को बीजेपी ने अपने कई कार्यक्रमों में मां काली की तस्वीर लगाई और कार्यक्रम के दौरान मां काली की पूजा की।

वहीं भाजपा के वरिष्ठ नेता शुभेंदु अधिकारी ने हिंदू पुजारियों के साथ राज्यपाल जगदीप धनखड़ से मुलाकात की। शुभेंदु अधिकारी ने राज्यपाल से इस मुलाकात में उन्हें मां काली की तस्वीर भेंट की। तस्वीर के साथ-साथ उन्होंने राज्यपाल को एक ज्ञापन भी सौंपा है। इस ज्ञापन में मां काली के खिलाफ विवादित बयान देने वालों पर कार्रवाई की मांग की गई है। बीजेपी के नेताओं ने राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू से भी मुलाकात की। बीजेपी के नेताओं ने उन्हें भी देवी काली की तस्वीर भेंट की। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने भी काली मंदिर में पूजा की।

बाबुल सुप्रियो ने बीजेपी पर मां काली पोस्टर विवाद को बढ़ाने का आरोप लगाया है। उन्होंने बीजेपी की आलोचना करते हुए कहा कि बीजेपी बंगाल को कभी नहीं समझ पाई। बीजेपी बंगालियों को मूर्ख मानती है। वह तभी इस तरह की बचकाना हरकतें कर रही है और यही बचकाना हरकतें उनके चेहरे पर कालिख पोत रही है। यह शर्मनाक है कि बीजेपी द्वारा राजभवन को ऐसे शर्मनाक कृत्यों का मंच बनाया गया है।

बीजेपी नेता शुभेंदु अधिकारी द्वारा राज्यपाल को ज्ञापन  देकर तृणमूल कांग्रेस की सांसद महुआ मोइत्रा पर कार्रवाई की मांग के बाद बाबुल सुप्रियो ने ट्वीट कर ये बातें कही हैं। बीजेपी आईटी  सेल के प्रमुख अमित मालवीय के ट्विटर पर चल रहे कटाक्ष पर तृणमूल नेता सौगत रॉय ने कहा कि पार्टी पहले ही महुआ मोइत्रा के बयान की निंदा कर चुकी है. तृणमूल को बीजेपी से सबक लेने की जरूरत तो बिल्कुल नहीं है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

sixteen − twelve =