मुंबई। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने कहा है कि आईपीएल मीडिया राइट्स ई-नीलामी (2023-27) की जोरदार सफलता क्रिकेट की नींव को और मजबूत करेगा। साथ ही इससे युवा खिलाड़ियों प्ररेणा भी मिलेगी। दुनिया का सबसे अमीर क्रिकेट बोर्ड को आईपीएल मीडिया राइट्स नीलामी से 48,390.32 करोड़ रुपये मिले, लेकिन गांगुली ने कहा कि क्रिकेट सिर्फ पैसों के लिए नहीं, बल्कि प्रतिभा के लिए है। गांगुली ने बीसीसीआई पर एक बयान में कहा, “क्रिकेट का खेल सिर्फ पैसे के बारे में नहीं, बल्कि यह प्रतिभा के बारे में है। आईपीएल ई-नीलामी ने दिखाया कि हमारे देश में खेल कितना मजबूत है।”

गांगुली ने कहा, “आईपीएल के आगे बढ़ने की कहानी और खेल जगत में इसकी अभूतपूर्व वृद्धि बीसीसीआई नेतृत्व और इसके कर्मचारियों में सभी विपरीत परिस्थितियों में काम करने के लिए लोगों के अपार विश्वास का परिणाम है। मुझे यकीन है कि इको-सिस्टम में सभी के निरंतर समर्थन के साथ हम वैश्विक खेल मंच पर ब्रांड आईपीएल को नई ऊंचाइयों पर ले जाने में सक्षम होंगे।” सफल बोली लगाने वाले अब आईपीएल सीजन 2023 से आईपीएल सीजन 2027 तक 48,390.32 करोड़ रुपये के मीडिया अधिकार हासिल करेंगे, जो बीसीसीआई द्वारा आवश्यक दस्तावेजों के निष्पादन और औपचारिकताओं को पूरा करने के अधीन है।

बीसीसीआई सचिव जय शाह ने कहा कि नीलामी के नए दौर ने आईपीएल को वैश्विक खेल की बड़ी लीग में पहुंचा दिया है। क्रिकेट में आने वाले पैसे से खेल को जमीनी स्तर पर मदद मिलेगी। साथ ही कहा कि बोर्ड अगले साल महिला आईपीएल शुरू करने के लिए प्रतिबद्ध है। पूरा विचार क्रिकेट और व्यावसायिक हितों को संतुलित करना है, क्योंकि बीसीसीआई क्रिकेट के माध्यम से देश में खेलों के विकास के लिए प्रतिबद्ध है।

मीडिया अधिकारों के माध्यम से हम जो पैसा कमाते हैं वह अंतत: भारत में जमीनी स्तर के क्रिकेट को लाभान्वित करेगा। बीसीसीआई देश में महिला क्रिकेट के विकास के लिए अधिकतम अवसर पैदा करने के अलावा 2023 में महिला आईपीएल शुरू करने के लिए भी प्रतिबद्ध है।” बीसीसीआई के कोषाध्यक्ष अरुण सिंह धूमल ने कहा, “मीडिया अधिकार राजस्व आईपीएल को ‘मेड इन इंडिया’ के रूप में बढ़ावा देने में भी मदद करेगा।”

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

seven + two =